Holi Lyrics होली लिरिक्स

Holi Lyrics होली लिरिक्स होली के भजन लिखित में

मेरी चुनरी में पड़ गयो दाग री भजन लिरिक्स

मेरी चुनरी में पड़ गयो दाग री,
कैसो चटक रंग डारो,
श्याम मेरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों।।

औरन को अचरा ना छुअत है,
औरन को अचरा ना छुअत है,
या की मोहि सो,
या की मोहि सो लग रही लाग री,
या की मोहि सो लग रही लाग री,
कैसो चटक रंग डारों,
श्याम मोरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों।।

मो सो कहतो सुन्दर नारी,
मो सो कहतो सुन्दर नारी,
ये तो मोही सो,
ये तो मो हि सो खेले फाग री,
ये तो मो हि सो खेले फाग री,
कैसो चटक रंग डारो,
श्याम मेरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों।।

बल बल दास आस ब्रज छोड़ो,
बल बल दास आस ब्रज छोड़ो,
ऐसी होरी में,
ऐसी होरी में लग जाये आग री,
ऐसी होरी में लग जाये आग री,
कैसो चटक रंग डारों,
श्याम मोरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों।।

मेरी चुनरी में पड़ गयो दाग री,
कैसो चटक रंग डारो,
श्याम मोरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों।।

होली खेला तेरे संग वे ओ सांवरे भजन लिरिक्स

होली खेला तेरे संग वे ओ सांवरे,
पावा तेरे उत्ते रंग वे ओ सांवरे,
होली खेलां तेरे संग वे ओ सांवरे।।

रंग गुलाल लेके थाली मैं सजाई है,
तेरे आवण दी मैं ता आस लगाई है,
मेरी गली विचो लंग वे ओ सांवरे,
होली खेलां तेरे संग वे ओ सांवरे।।

केहड़ी गलो दस मैं तो दूर दूर रहना है,
सुन्दा नी गल नहियो मुँहो कुछ कहंदा है,
तेरो चंगे नहियो ढंग वे ओ सांवरे,
होली खेलां तेरे संग वे ओ सांवरे।।

तेरी ही दीवानी मैं ता तेरे रंग रंगी आ,
जो भी हां मैं तेरी श्यामा चंगीआ के मंदीआ,
तू लगा ले मेनू अंग वे सांवरे,
होली खेलां तेरे संग वे ओ सांवरे।।

होली दे दिना च सारे खुशियाँ मनौंदे ने,
दास वैर भाव सारे दिल चो भुलांदे ने,
मन निकी जही गल वे ओ सांवरे,
होली खेलां तेरे संग वे ओ सांवरे।।

होली खेला तेरे संग वे ओ सांवरे,
पावा तेरे उत्ते रंग वे ओ सांवरे,
होली खेलां तेरे संग वे ओ सांवरे।।

मैं कैसे होली खेलूँगी या सांवरिया के संग भजन लिरिक्स

मैं कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग।।

कोरे कोरे कलश मँगाए,
केसर घोरो रंग,
लाला, केसर घोरो रंग,
भर पिचकारी मेरे सन्मुख मारी,
सखियाँ हो गई दंग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग।।

साड़ी सरस सभी मेरो भिजो,
भिज गयो सब अंग,
लाला, भिज गियो सब अंग,
और या बज मारे को कहाँ भिगौउ,
कारी कमर अंग
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग।।

तबला बाजे सारंगी बाजे,
और बाजे मृदंग,
और बाजे मृदंग,
और श्याम सुंदर की बंशी बाजे,
राधा जू के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग।।

घर घर से ब्रज बनिता आई,
लिए किशोरी संग,
लाला, लिए किशोरी संग,
चन्द्रसखी हसयो उठ बोली,
लगा श्याम के अंग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग।।

मैं कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग,
रंग में कैसे होली खेलूँगी,
या सांवरिया के संग।।

छाया रे बसंती रंग लो फागुन आया रे भजन लिरिक्स

छाया रे बसंती रंग,
लो फागुन आया रे,
याद श्याम की आई,
फिर से चली पुरवाई,
छाया रें बसंती रंग,
लो फागुन आया रे।।

भगतो ने खाटू की गलियां हैं सजायी,
बाबा ने सबको आवाज लगायी,
आओ मेरी आंख के तारों,
देर करो ना प्यारो,
आओ मेरी आंख के तारों,
देर करो ना प्यारो,
छाया रें बसंती रंग,
लो फागुन आया रे।।

देखो सजी दुल्हन सी खाटू की नगरिया,
सज धज दूल्हा सा बैठा हैं सांवरिया,
प्यारा प्यारा श्याम सलोना,
लग रहा सोणा सोणा,
प्यारा प्यारा श्याम सलोना,
लग रहा सोणा सोणा,
छाया रें बसंती रंग,
लो फागुन आया रे।।

श्याम ध्वजाओं का सैलाब सा आया,
गूंज उठी जयकार जादू सा है छाया,
लंबी लगी कतारे,
ये मद मस्त नज़ारे,
लंबी लगी कतारे,
ये मद मस्त नज़ारे,
छाया रें बसंती रंग,
लो फागुन आया रे।।

सांवरे के मंदिर में खेले आज होली,
थोड़ी शरारत हो थोड़ी हो ठिठोली,
रंग अबीर उड़ाए,
झूमे नाचे गाए,
रंग अबीर उड़ाए,
झूमे नाचे गाए,
छाया रें बसंती रंग,
लो फागुन आया रे।।

छाया रे बसंती रंग,
लो फागुन आया रे,
याद श्याम की आई,
फिर से चली पुरवाई,
छाया रें बसंती रंग,
लो फागुन आया रे।।

मेरो खोय गयो बाजूबंद रसिया होरी में भजन लिरिक्स

मेरो खोय गयो बाजूबंद,
रसिया होरी में,
होरी में, होरी में,
होरी में, होरी में,
मेरो खोय गयो बाजूबंद,
रसिया होरी में।।

बाजूबंद मेरे बड़ो रे मोल को,
तो पे बनवाऊँ पुरे तोल को,
नन्द के परजंद,
रसिया होरी में,
मेरो खोय गयो बाजुबंद,
रसिया होरी में।।

सास लड़ेगी मेरी नंदुल लड़ेगी,
खसम की सिर पे मार पड़ेगी,
हे जाय सब रस भंग,
रसिया होरी में,
मेरो खोय गयो बाजुबंद,
रसिया होरी में।।

उधम तेने लाला बहुत मचायो,
लाज शरम जाने कहाँ धरी आयो,
मैं तो होय गई तोसे तंग,
रसिया होरी में,
मेरो खोय गयो बाजुबंद,
रसिया होरी में।।

तेरी मेरी प्रीत पुराणी,
तुमने मोहन नाय पहचानी,
मोकू ले चल अपने संग,
रसिया होरी में,
मेरो खोय गयो बाजुबंद,
रसिया होरी में।।

मेरो खोय गयो बाजुबंद,
रसिया होरी में,
होरी में, होरी में,
होरी में, होरी में,
मेरो खोय गयो बाजुबंद,
रसिया होरी में।।

मची होली उड़े रे गुलाल सखी री बरसाने में लिरिक्स

मची होली उड़े रे गुलाल,
सखी री बरसाने में,
ए री हाँ आज बरसाने में,
अजी हाँ आज बरसाने में,
मची होरी उड़े रे गुलाल,
सखी री बरसाने में।।

नंदगांव के ठाकुर प्यारे,
होरी को बरसाना पधारे,
ए री ठाकुर प्यारे,
बरसाना पधारे,
होरी को बरसाना पधारे,
लठ बरसे पकडे ढाल,
सखी री बरसाने में,
मची होरी उड़े रे गुलाल,
सखी री बरसाने में।।

सबरी सखियन देवे गारी,
कीच मचे चहू ओर है भारी,
ये तो देवे गारी,
हांजी देवे गारी,
कीच मचे चहू ओर है भारी,
तेरा चले न कोई वार,
सखी री बरसाने में,
मची होरी उड़े रे गुलाल,
सखी री बरसाने में।।

भर पिचकारा श्याम चलावे,
ऊंची अटारी पे धूम मचावे,
तेरो ‘लाड्ला’ है गयौ लाल,
सखी री बरसाने में,
मची होरी उड़े रे गुलाल,
सखी री बरसाने में।।

मची होली उड़े रे गुलाल,
सखी री बरसाने में,
ए री हाँ आज बरसाने में,
अजी हाँ आज बरसाने में,
मची होरी उड़े रे गुलाल,
सखी री बरसाने में।।

मोहे होरी में कर गयो तंग ये रसिया माने ना मेरी लिरिक्स

मोहे होरी में कर गयो तंग,
ये रसिया माने ना मेरी।।

श्लोक – फागुण महीना लगत ही,
हिया मोरा उमंग में,
होरी खेले सांवरा,
श्री राधा जी के संग में।

मोहे होरी में कर गयो तंग,
ये रसिया माने ना मेरी,
माने ना मेरी माने ना मेरी,
मोहे होली में कर गयो तंग,
ये रसिया माने ना मेरी।।

ग्वाल बालन संग घेर लई मोहे,
इकली जान के,
भर भर मारे रंग पिचकारी मेरे,
सन्मुख तान के,
या ने ऐसो, या ने ऐसो,
या ने ऐसो मचायो हुरदंग,
ये रसिया माने ना मेरी,
मोहे होली में कर गयो तंग,
ये रसिया माने ना मेरी।।

जित जाऊँ मेरे पीछे डोले,
जान जान के अटके,
ना माने होरी में कहूं की ये तो,
गलिन गलिन में मटके,
ना ऐ होरी, ना ऐ होरी,
ना ऐ होरी खेलन को ढंग,
ये रसिया माने ना मेरी,
मोहे होली में कर गयो तंग,
ये रसिया माने ना मेरी।।

रंग बिरंगे ‘चित्र विचित्र’,
बनाए दिए होरी में,
पिचकारी में रंग रीत गयो,
भर ले कमोरी ते,
पागल ने, पागल ने,
पागल ने छनाए दई भंग,
ये रसिया माने ना मेरी,
मोहे होली में कर गयो तंग,
ये रसिया माने ना मेरी।।

मोहे होरी में कर गयो तंग,
ये रसिया माने ना मेरी,
माने ना मेरी माने ना मेरी,
मोहे होरी में कर गयो तंग,
ये रसिया माने ना मेरी।।

अब के फागुन में होली खेलन खाटू जाएंगे भजन लिरिक्स

अब के फागुन में,
होली खेलन खाटू जाएंगे,
चाहे कुछ भी हो जाए सांवरे,
हम ना रुक पाएंगे,
अब के फागुण में,
होली खेलन खाटू जाएंगे।।

दिल में है बेकरारी,
मन उड़ता उड़ता जाए,
करवट पे करवट बदलूँ,
ना चैन घड़ी इक आए,
इक पल की भी अब देरी,
हम सह नहीं पाएंगे,
अब के फागुण में,
होली खेलन खाटू जाएंगे।।

अब क्यों ऐसा लगता है,
के जैसे कोई बुलाए,
अंतर्मन है व्याकुल सा,
हिचकी पे हिचकी आए,
बाबा ने याद किया है,
हम ना रुक पाएंगे,
अब के फागुण में,
होली खेलन खाटू जाएंगे।।

जिसको पूछे वो कहता,
हम तो है श्याम दीवाने,
बस झूमे हाँ झूमे है,
मस्ती में हो मस्ताने,
जो कदम उठे है ‘योगी’,
वो ना रुक पाएंगे,
अब के फागुण में,
होली खेलन खाटू जाएंगे।।

अब के फागुन में,
होली खेलन खाटू जाएंगे,
चाहे कुछ भी हो जाए सांवरे,
हम ना रुक पाएंगे,
अब के फागुण में,
होली खेलन खाटू जाएंगे।।

खेले ब्रज में रंग गुलाल राधे संग श्याम बिहारी भजन लिरिक्स

खेले ब्रज में रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी,
राधे संग श्याम बिहारी,
राधे संग श्याम बिहारी,
खेले ब्रज मे रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी।।

मेरी राधा छुप छुप जावे,
जद कान्हो रंग लगावे,
कर दी ब्रज में आज धमाल,
राधे संग श्याम बिहारी,
खेले ब्रज मे रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी।।

गोपी और ग्वाल भी खेले,
जैसे खुशियों के मेले,
लगती जोड़ी खूब कमाल,
राधे संग श्याम बिहारी,
खेले ब्रज मे रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी।।

घनश्याम की मुरली बाजे,
मेरी राधा छम छम नाचे,
मिलावे दोनों ताल से ताल,
राधे संग श्याम बिहारी,
खेले ब्रज मे रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी।।

दोनों का प्रेम अनूठा,
बाकी सारा जग झूठा,
उड़ावे प्रेम को रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी,
खेले ब्रज मे रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी।।

अब श्याम भरोसे जीवन,
राधे को सबकुछ अर्पण,
‘सोनी’ करसि तने निहाल,
राधे संग श्याम बिहारी,
खेले ब्रज मे रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी।।

खेले ब्रज में रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी,
राधे संग श्याम बिहारी,
राधे संग श्याम बिहारी,
खेले ब्रज मे रंग गुलाल,
राधे संग श्याम बिहारी।।

श्याम मेरी चुनर पे रंग मत डाल होली भजन लिरिक्स

श्याम मेरी चुनर पे,
रंग मत डाल,
विनती करूं पैया पडु,
तोरे बार-बार।।

भर पिचकारी कान्हा,
सन्मुख ना मारो,
अबीर गुलाल मेरे,
मुख पे ना डारो,
आज आई -2,
करके मैं सोलह श्रृंगार,
विनती करूं पैया पडु,
तोरे बार-बार।।

बीच बजरिया,
ना रोको मुरारी,
जाने दो श्याम,
मत आवो अगाड़ी,
पकड़ो ना बहिया जी-2,
पराई हू नार,
विनती करूं पैया पडु,
तोरे बार-बार।।

संग सहेली सब,
हांसी करेगी,
सास ननंद की मोहे,
डांट पड़ेगी,
झगडेंगे सैया जी-2,
घर पे हमार,
विनती करूं पैया पडु,
तोरे बार-बार।।

‘मंत्री’ कहे विनती,
अब सुन लो हमारी,
भक्त ‘दयाल’ रहे,
शरण तुम्हारी,
श्याम तेरे चरणों में-2,
जाऊं बलिहार,
विनती करूं पैया पडु,
तोरे बार-बार।।

श्याम मेरी चुनर पे,
रंग मत डाल,
विनती करूं पैया पडु,
तोरे बार-बार।।

श्याम होली खेलने आया भजन लिरिक्स

श्याम होली खेलने आया,

सारे ब्रज में धूम मचाया,
श्याम होली खेलने आया।।

राधा कहने लगी श्याम छोड़ो अभी,
राधा कहने लगी श्याम छोड़ो अभी,
ना ना कहते भी उसने रंगाया,
श्याम होलि खेलने आया,
सारे ब्रज में धूम मचाया,
श्याम होली खेलने आया।।

श्याम संग ग्वालों की आज टोली बनी,
श्याम संग ग्वालों की आज टोली बनी,
सखियों का मन घबराया,
श्याम होलि खेलने आया,
सारे ब्रज में धूम मचाया,
श्याम होली खेलने आया।।

हुई रंग से सराबोर राधा रानी,
हुई रंग से सराबोर राधा रानी,
श्याम ने ऐसा रंग लगाया,
श्याम होलि खेलने आया,
सारे ब्रज में धूम मचाया,
श्याम होली खेलने आया।।

श्याम के रंग से सारा ब्रज रंग गया,
श्याम के रंग से सारा ब्रज रंग गया,
फागुण ने रंग दिखाया,
श्याम होलि खेलने आया,
सारे ब्रज में धूम मचाया,
श्याम होली खेलने आया।।

राधा हँसने लगी श्याम को देखके,
राधा हँसने लगी श्याम को देखके,
श्याम ने ऐसा रूप बनाया,
श्याम होलि खेलने आया,
सारे ब्रज में धूम मचाया,
श्याम होली खेलने आया।।

सारे ब्रज में धूम मचाया,
श्याम होली खेलने आया।।

holi lyrics होली धमाल भजन लिरिक्स होली के रसिया लिरिक्स होली खेलत नंदलाल बिरज में लिरिक्स मंदिर में उड़े रे गुलाल लिरिक्स holi bhajan lyrics shyam holi bhajan lyrics

This Post Has 3 Comments

Leave a Reply