कृपा बरस रही है खाटू के दर पे आजा भजन लिरिक्स

कृपा बरस रही है,
खाटू के दर पे आजा,
ीष मि रहा है,
सच्चा है श्याम बाबा,
किस्मत यहाँ है बनती,
तू भी तो आ बना जा,
कृपा बरस रही हैं,
खाटू के दर पे आजा

बिन मांगे झोली भरते,
दर पे जो तेरे आता,
पूरी होती है आशा,
खाली ना कोई जाता,
कृपा बरस रही हैं,
खाटू के दर पे आजा।।

तेरा है नाम प्यारा,
मेरे खाटू श्याम बाबा,
बिगड़ी तू ही बनाता,
हारे का तू सहारा
कृपा बरस रही हैं,
खाटू के दर पे आजा।।

कृपा बरस रही है,
खाटू के दर पे आजा,
आशीष मिल रहा है,
सच्चा है श्याम बाबा,
किस्मत यहाँ है बनती,
तू भी तो आ बना जा,
कृपा बरस रही हैं,
खाटू के दर पे आजा।।

Leave a Reply