भक्तो का सपना है ये मिलकर बनाएँगे श्याम जी जी भजन लिरिक्स

भक्तो का सपना है ये मिलकर बनाएँगे कृष्णा जी भजन लिरिक्स | Bhakto Ka Sapna Hai Ye | भक्तों का सपना है ये | श्याम बाबा का मधुर गीत | Jay Shankar Choudhary | स्वर – जयशंकर जी चौधरी। khatushyam #shyambhajan #krishnabhajan

Song : Bhakto Ka Sapna Hai Ye
Singer : Jay Shankar Choudhary
Album : Mehfil Shyam Pyare Ki
Music : Lovely Sharma
Copyright: Saawariya

भक्तो का सपना है ये,
मिलकर बनाएँगे,
करले सुणवाई अबके,
फागण चढ़ाएंगे,
ये दुनिया देखे तो बोले,
ये दुनिया देखे तो बोले,
है ये बड़े ही ज़ोर का,
बागा पहनाए तुमको छप्पन करोड़ का,
बागा पहनाए तुमको छप्पन करोड़ का।।

बागा बनवाए तेरा,
सोने के तार से,
करवाए काम इसका,
बढ़िया सुनार से,
काम देखने लायक होगा,
काम देखने लायक होगा,
इसके चारो ओर का,
बागा पहनाए तुमको छप्पन करोड़ का।।

मोती की लटकन होगी,
बागे के चारो ओर,
हीरो से होगी सजावट,
बागा होगा बेजोड़,
माणक और मणियों का बिच में,
माणक और मणियों का बिच में,
पंख बनेगा मोर का,
बागा पहनाए तुमको छप्पन करोड़ का।।

तेरे बागे के ऊपर,
नवलक्खा हार हो,
नीलम पुखराज की तो,
इतनी भरमार हो,
कोई कोना रहे ना खाली,
कोई कोना रहे ना खाली,
इसके किसी भी छोर का,
बागा पहनाए तुमको छप्पन करोड़ का।।

रोजाना शोक से तुम,
बागा पहनते हो,
इतने शोकिन हो तुम,
रोज बदलते हो,
इसको भी बदलो लेकिन,
रखना ये ध्यान हो,
इससे हल्का पहनोगे,
जाएगी शान हो,
इसको बदलना ‘बनवारी’ जब,
बन जाए सौ सौ करोड़ का,
बागा पहनाए तुमको छप्पन करोड़ का।।

भक्तो का सपना है ये,
मिलकर बनाएँगे,
करले सुणवाई अबके,
फागण चढ़ाएंगे,
ये दुनिया देखे तो बोले,
ये दुनिया देखे तो बोले,
है ये बड़े ही ज़ोर का,
बागा पहनाए तुमको छप्पन करोड़ का,
बागा पहनाए तुमको छप्पन करोड़ का।।

बाबा मन्नै करया चालीसा तेरा खेत के कोठड़े प डेरा

हे वीर भक्त बजरंग बली मैं तुझको आज रिझाता हूँ लिरिक्स

Watch video “खाटू श्याम ने किया कमाल ” from Saawariya Music

Bhakto Ka Sapna Hai Ye Milkar Badayenge bhajan lyrics in english

Bhakto Ka Sapna Hai Ye
Milkar Badayenge

Karle Sunvai Abke Fagun Chadayenge
Ye Duniya Dekhe To Bole
Hai Ye Bade Hi Jor Ka
Vaga Pahnaye chappan Karor Ka

Bhakto Ka Sapna Hai Ye
Milkar Banayenge

Karle Sunvai Abke Fagun Chadayenge
Ye Duniya Dekhe To Bole
Hai Ye Bade Hi Jor Ka
Vaga Pahnaye Tumko chappan Karor Ka

Vaga Banvaye Tera Sone Ke Taar Se
Karvaye Kaam Iska Badiya Sunaar Se
Kaam Dekhne Layak Hoga
Iske Chaaro Aur Ka
Vaga Pahnaye Tumko chappan Karor Ka

Bhakto Ka Sapna Hai Ye Milkar Badayenge
Karle Sunvai Abke Fagun Chadayenge

Ye Duniya Dekhe To Bole
Hai Ye Bade Hi Jor Ka
Vaga Pahnaye Tumko chappan Karor Ka

Moti Ki Latkan Hogi
Vage Ke Charo Aur Heero Se Hogi Sajawat
Vaga Hoga Bejod
Manak Aur Madiyo Ka Pankh Banega Mor Ka
Vaga Pahnaye Tumko chappan Karor Ka

Bhakto Ka Sapna Hai Ye
Milkar Banayenge

Karle Sunvai Abke Fagun Chadayenge
Ye Duniya Dekhe To Bole
Hai Ye Bade Hi Jor Ka
Vaga Pahnaye Tumko chappan Karor Ka

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply