कलयुग के अवतारी हमें तेरा सहारा है भजन लिरिक्स

कलयुग के अवतारी,
हमें तेरा सहारा है,
अपना ले या ठुकरा दे,
क्या ज़ोर हमारा है,
कलयुग के अवतारीं,
हमें तेरा सहारा है।।

जब जब संकट आया,
बाबा तू बना साथी,
तू इसीलिए प्यारे,
हारे का सहारा है,
कलयुग के अवतारीं,
हमें तेरा सहारा है।।

कलयुग के अवतारीं,
एक बार दया कर दो,
पल भर में चमक जाए,
मेरा भाग्य सितारा है,
कलयुग के अवतारीं,
हमें तेरा सहारा है।।

दिल के गुलदस्ते में,
‘भावना’ के फूल खिले,
कहे ‘किशन’ कबूल करो,
उपहार हमारा है,
कलयुग के अवतारीं,
हमें तेरा सहारा है।।

कलयुग के अवतारी,
हमें तेरा सहारा है,
अपना ले या ठुकरा दे,
क्या ज़ोर हमारा है,
कलयुग के अवतारीं,
हमें तेरा सहारा है।।

Leave a Reply