क्यों आ के रो रहा है गोविन्द की गली में भजन कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Kyun Aake Ro Raha Hai Govind Ki Gali Mein Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

क्यों आ के रो रहा है गोविन्द की गली में भजन कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Kyun Aake Ro Raha Hai Govind Ki Gali Mein Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

कृष्ण भगवान का Beautiful Krishna Bhajan नॉनस्टॉप कृष्ण मधुर भजन | Beautiful Krishna Bhajan | Krishna Songs Krishna Bhajan भजन क्यों आ के रो रहा है गोविन्द की गली में भजन कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Kyun Aake Ro Raha Hai Govind Ki Gali Mein Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics विनोद अग्रवाल जी ने इस मधुर और मीठे भक्ति से भरे भजन को गाया है , और इसके गायक हैं भजन के कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स हिंदी और अंग्रेजी में ( इन इंग्लिश) इस वेबसाइट पर उपलब्ध हैं सिर्फ आपके लिए, ताकि आपका ज्ञान बढ़ सके और आप अपने आप को भक्ति भजन धरा में पाएं.

Kyun Aake Ro Raha Hai Govind Ki Gali Mein Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

क्यों आ के रो रहा है,,,
गोविन्द की गली में,,,
हर दर्द की दवा है,,,
गोविन्द की गली में।।

तू खुल के उनसे कह दे,,,
जो दिल में चल में चल रहा है,,,
वो जिंदगी के ताने,,,
बाने जो बुन रहा है,,,
हर सुबह खुशनुमा है,,,
गोविन्द की गली में।।

तुझे इंतज़ार क्यों है,,,
इस रात की सुबह का,,,
मंजिल पे गर निगाहें,,,
दिन रात क्या डगर क्या,,,
हर रात रंगनुमा है,,,
गोविन्द की गली में।।

कोई रो के उनसे कह दे,,,
कोई ऊँचे बोल बोले,,,
सुनता है वो उसी की,,,
बोली जो उनकी बोले,,,
हवाएं अदब से बहती,,,
गोविन्द की गली में।।

दो घुट जाम के हैं,,,
हरी नाम के तू पी ले,,,
फिकरे हयात क्यों है,,,
जैसा है वो चाहे जी ले,,,
साकी है मयकदा है,,,
गोविन्द की गली में।।

इस और तू खड़ा है,,,
लहरों से कैसा डरना,,,
मर मर के जी रहा है,,,
पगले यह कैसा जीना,,,
कश्ती है ना खुदा है,,,
गोविन्द की गली में।।

क्यों आ के रो रहा है,,,
गोविन्द की गली में,,,
हर दर्द की दवा है,,,
गोविन्द की गली में।।

Leave a Reply