खाटू वाले बाबा सबके भाग्यविधाता भजन लिरिक्स

खाटू वाले बाबा सबके भाग्यविधाता,
जो भी दर तेरे शीश झुकाये,
पाते मेहरबानियाँ, तेरी मेहरबानियाँ,
तू है दाता, हे श्याम बाबा,
तुझसे चमकी जिन्दगानियाँ,
खाटु वाले बाबा सबके भाग्यविधाता,
जो भी दर तेरे शीश झुकाये,
पाते मेहरबानियाँ तेरी मेहरबानियाँ।।

दुनिया से हारे, पाए तुझसे सहारे,
नैया डूबे जो मझधार,
तू लगाए किनारे,
साथ निभाए, राह दिखाए,
करे दूर परेशानियां,
खाटु वाले बाबा सबके भाग्यविधाता,
जो भी दर तेरे शीश झुकाये,
पाते मेहरबानियाँ तेरी मेहरबानियाँ।।

रोगी दुखिया जो आए,
आँखे आँसू बहाये,
भर के खुशियां जीवन में,
तेरे दर से वो जाए,
जो यहाँ आए, गुण तेरे गाये,
तेरी अमर कहानियाँ,
खाटु वाले बाबा सबके भाग्यविधाता,
जो भी दर तेरे शीश झुकाये,
पाते मेहरबानियाँ तेरी मेहरबानियाँ।।

खाटू वाले बाबा सबके भाग्यविधाता,
जो भी दर तेरे शीश झुकाये,
पाते मेहरबानियाँ तेरी मेहरबानियाँ,
तू है दाता, हे श्याम बाबा,
तुझसे चमकी जिन्दगानियाँ,
खाटु वाले बाबा सबके भाग्यविधाता,
जो भी दर तेरे शीश झुकाये,
पाते मेहरबानियाँ तेरी मेहरबानियाँ।।

Leave a Reply