टूटा है दिल संभाल सांवरे भजन लिरिक्स

कृष्ण भजन टूटा है दिल संभाल सांवरे भजन लिरिक्स
स्वर – संजय मित्तल जी।
तर्ज – पलको का घर तैयार सांवरे।

टूटा है दिल संभाल सांवरे,
ये रो रो रहा है पुकार सांवरे,
ये रो रो रहा है पुकार सांवरे,
टूटा है दिल संभाल सांवरे।।

जग वालों को अपना समझा,
व्यर्थ ही समय गवाया,
जब जब मुझको पड़ी जरुरत,
कोई भी नहीं आया,
तू ही आके पकड़ले मेरी बांह सांवरे,
तू ही आके पकड़ले मेरी बांह सांवरे,
टूटा है दिल संभाल साँवरे,
टूटा है दिल संभाल सांवरे।।

माना की प्रभु मुझसे बड़ा ना,
कोई अधमी दूजा,
दुनिया कहती हारा नहीं वो,
जिसने तुमको पूजा,
रख ले तू उनकी ही बात सांवरे,
रख ले तू उनकी ही बात सांवरे,
टूटा है दिल संभाल साँवरे,
टूटा है दिल संभाल सांवरे।।

भटक भटक अब पंहुचा हूँ,
बाबा द्वार पे तेरे,
मुझको बस विश्वास दिला दो,
तुम हो गए हो मेरे,
फिर किसी की ना होगी दरकार सांवरे,
फिर किसी की ना होगी दरकार सांवरे,
टूटा है दिल संभाल साँवरे,
टूटा है दिल संभाल सांवरे।।

टूटा है दिल संभाल सांवरे,
ये रो रो रहा है पुकार सांवरे,
ये रो रो रहा है पुकार सांवरे,
टूटा है दिल संभाल सांवरे।।

This Post Has 5 Comments

Leave a Reply