तुमने लाखों की किस्मत सवारी कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Tumne Lakho Ki Kismat Sawari Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

तुमने लाखों की किस्मत सवारी कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Tumne Lakho Ki Kismat Sawari Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics
कृष्ण भगवान का Beautiful Krishna Bhajan नॉनस्टॉप कृष्ण मधुर भजन | Beautiful Krishna Bhajan | Krishna Songs Krishna Bhajan भजन तुमने लाखों की किस्मत सवारी कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Tumne Lakho Ki Kismat Sawari Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics जया किशोरी जी ने इस मधुर और मीठे भक्ति से भरे भजन को गाया है , और इसके गायक हैं भजन के कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स हिंदी और अंग्रेजी में ( इन इंग्लिश) इस वेबसाइट पर उपलब्ध हैं सिर्फ आपके लिए, ताकि आपका ज्ञान बढ़ सके और आप अपने आप को भक्ति भजन धरा में पाएं.

तुमने लाखों की किस्मत सवारी कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स

तुमने लाख़ों की क़िस्मत सँवारी
अब सँवरने की बारी हमारी
तेरी चौखट पे जो भी झुका है
उसको दुनियाँ ने सर पे रखा है

तेरे रुतबे का क्या क्या सबब दे
इतनी ताकत नहीं है हमारी
तुमने लाखो की किस्मत सँवारी
अब संवरने की बारी हमारी

अब हमारी बाबाजी
अब हमारी कान्हाजी
अब हमारी प्रभुजी
तुमने लाखो की किस्मत सँवारी
अब संवरने की बारी हमारी

आस तेरी भरोसा तुम्ही पर है श्याम
तू ही मोहन कन्हैयाँ तू ही तो है राम
दर पे आए बेगाने दीवाने बड़े
भर दो झोली खड़े है भगत ये तेरे

जब तलक तू सँवारे ना बिगड़ी
तेरे दर से ना जाए सवाली
तुमने लाख़ों की क़िस्मत सँवारी
अब सँवरने की बारी हमारी

हम सुधरना भी चाहें कहो क्या करें
तेरी मोह माया से बौल कितना लड़े
हम है नर तेरे जैसे नारायण नहीं
तुम अगर साथ दो होगी तेरी कहीं

रजा तेरी में हम तो है राजी
श्याम करना ना हमसे नाराज़ी
तुमने लाख़ों की क़िस्मत सँवारी
अब सँवरने की बारी हमारी

तू जो चाहें तो बहरा भी सुनने लगे
लूला लंगड़ा पहाड़ों पे चढने लगे
जिंदगी मौत सब कुछ तेरे हाथ है
तुम अगर साथ हो तो फिर क्या बात है

तेरे रहमों करम पे पड़े हैं
जाने कब होगी रहमत तुम्हारी
तुमने लाख़ों की क़िस्मत सँवारी
अब सँवरने की बारी हमारी

तुम हो दानी तो हम है भिखारी तेरे
तुम हो ठाकुर तो हम है पुजारी तेरे
जया भक्तों से क्यों इतना कतराते हो
ऐसा क्या माँगा देने में घबराते हो

ख़ुदगर्जों ने अर्जी सुना दी
अब कृपा की है मर्जी तुम्हारी
तुमने लाख़ों की क़िस्मत सँवारी
अब सँवरने की बारी हमारी

Tumne Lakho Ki Kismat Sawari Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

Tumane Lakhon Ki Kismat Sanwari
Ab Sanvarane Ki Bari Hamari
Teri Chaukhat Pe Jo Bhi Jhuka Hai
Usako Duniyan Ne Sar Pe Rakha Hai

Tere Rutabe Ka Kya Kya Sabab De
Itani Takat Nahin Hai Hamari
Tumane Lakho Ki Kismat Sanvari
Ab Sanvarane Ki Bari Hamari

Ab Hamari Babaji
Ab Hamari Kanhaji
Ab Hamari Prabhuji
Tumane Lakho Ki Kismat Sanvari
Ab Sanvarane Ki Bari Hamari

Aas Teri Bharosa Tumhi Par Hai Shyam
Tu Hi Mohan Kanhaiyan Tu Hi To Hai Ram
Dar Pe Aae Begane Diwane Bade
Bhar Do Jholi Khade Hai Bhagat Ye Tere

Jab Talak Tu Sanware Na Bigadi
Tere Dar Se Na Jae Sawali
Tumane Lakho Ki Kismat Sanvari
Ab Sanvarane Ki Bari Hamari

Ham Sudharana Bhi Chahen Kaho Kya Kare
Teri Moh Maya Se Baul Kitana Lade
Ham Hai Nar Tere Jaise Narayan Nahi
Tum Agar Sath Do Hogi Teri Kahi

Raja Teri Mein Ham To Hai Raji
Shyam Karana Na Hamase Narazi
Tumane Lakho Ki Kismat Sanvari
Ab Sanvarane Ki Bari Hamari

Tu Jo Chahe To Bahara Bhi Sunane Lage
Loola Langada Pahadon Pe Chadhane Lage
Jindagi Maut Sab Kuchh Tere Hath Hai
Tum Agar Sath Ho To Phir Kya Bat Hai

Tere Rahamon Karam Pe Pade Hain
Jane Kab Hogi Rahamat Tumhari
Tumane Lakho Ki Kismat Sanvari
Ab Sanvarane Ki Bari Hamari

Tum Ho Dani To Ham Hai Bhikhari Tere
Tum Ho Thakur To Ham Hai Pujari Tere
Jaya Bhakton Se Kyon Itana Katarate Ho
Aisa Kya Manga Dene Mein Ghabarate Ho

Khudagarjon Ne Arji Suna Di
Ab Kripa Ki Hai Marji Tumhari
Tumane Lakho Ki Kismat Sanvari
Ab Sanvarane Ki Bari Hamari

Tumne Lakho Ki Kismat Sawari Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

This Post Has One Comment

Leave a Reply