तू सहारा हारो का है सांवरे खाटू श्याम भजन लिरिक्स

तू सहारा हारो का है सांवरे,
आ गया हूँ मैं भी सबकुछ हार के।।

करे विश्वास किस पर हम,
यहाँ सब लोग झूठे है,
सभी के चेहरों पर बाबा,
यहाँ नकली मुखौटे है,
एक तू सच्चा है मेरे सांवरे,
गैर है नाते सभी संसार के,
तू सहारा हारो का हैं सांवरे,
आ गया हूँ मैं भी सबकुछ हार के।।

हमारे दिल से वो खेला,
जिसे दिल ने कहा अपना,
मेरे अपनो ने ही तोड़ा,
मेरे जीवन का हर सपना,
होंठो पे फरियाद आँखों में नमी,
भरके आया हूँ तेरे दरबार में,
तू सहारा हारो का हैं सांवरे,
आ गया हूँ मैं भी सबकुछ हार के।।

तू सहारा हारो का है सांवरे,
आ गया हूँ मैं भी सबकुछ हार के।।

Leave a Reply