मोरी टेर सुनो ब्रज के वासी कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Mori Ter Suno Braj Ke Wasi Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

मोरी टेर सुनो ब्रज के वासी कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Mori Ter Suno Braj Ke Wasi Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

कृष्ण भगवान का  Beautiful Krishna Bhajan नॉनस्टॉप कृष्ण मधुर भजन | Beautiful Krishna Bhajan | Krishna Songs Krishna Bhajan  भजन मोरी टेर सुनो ब्रज के वासी कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स – Mori Ter Suno Braj Ke Wasi Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics राजेंद्र प्रसाद सोनी जी ने इस मधुर और मीठे भक्ति से भरे भजन को गाया है , और इसके गायक हैं भजन के कृष्ण भगवान,श्याम जी,मोहन लिरिक्स हिंदी और  अंग्रेजी में ( इन इंग्लिश) इस वेबसाइट पर उपलब्ध हैं सिर्फ आपके लिए, ताकि आपका ज्ञान बढ़ सके और आप अपने आप को भक्ति भजन धरा में पाएं.

 

Mori Ter Suno Braj Ke Wasi Krishna Bhajan, Mohan ji, shyam ji ke bhajan Lyrics

 

मोरी टेर सुनो ब्रज के वासी,,,

ओ गोवर्धन गिरधारी ।।

 

आये हैं हम तेरे द्वारे,,,

टेर सुनो यशोदा के प्यारे,,,

चल न कंटक पथ पर,,,

चलते चलते ये पग हारे ।।

 

विनय सुनो मोरी बनवारी,,,

गोवर्धन गिरधारी,,,

मोरी टेर सुनो ब्रज के वासी,,,

ओ गोवर्धन गिरधारी ।।

 

अश्रुधार सींच रहा हूँ ,,,

है गिरधारी चरण तुम्हारे,,,

कौन खबर ले तुम बिन मोरी,,,

कौन हमारी विपदा टारे ।।

 

है करुनाकर जग हितकारी,,,

गोवर्धन गिरधारी,,,

मोरी टेर सुनो ब्रज के वासी,,,

ओ गोवर्धन गिरधारी ।।

 

भक्ति भाव की माला है बस,,,

और नहीं कुछ पास हमारे,,,

तुमसा डेटा छोड़ के है हरि,,,

किसके जाऊं पाव पखारे ।।

 

राजेन्द्र तुम है बलिहारी,,,

गोवर्धन गिरधारी,,,

मोरी टेर सुनो ब्रज के वासी,,,

ओ गोवर्धन गिरधारी।।

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply