ये प्रार्थना दिल की बेकार नही होगी भजन लिरिक्स

ये प्रार्थना दि की,
बेकार नही होगी,
पूरा है भरोसा,
मेरी हार नही होगी,
साँवरे जब तू मेरे साथ है,
साँवरे सिर पे तेरा हाथ है

मैं हार जाऊ ये,
कभी हो नही सकता,
बेटा अगर दुःख में,
पिता सो नही सकता,
बेटे की हार तुम्हे,
स्वीकार नही होगी,
पूरा है भरोसा,
मेरी हार नही होगी,
साँवरे जब तू मेरे साथ है,
साँवरे सिर पे तेरा हाथ है।।

तूफ़ान हो पीछे,
या काल हो आगे,
कह दूंगा मै उनसे,
मेरा श्याम है सागे,
ऐसे में भी जग की,
दरकार नही होगी,
पूरा है भरोसा,
मेरी हार नही होगी,
साँवरे जब तू मेरे साथ है,
साँवरे सिर पे तेरा हाथ है।।

घनघोर चले आंधी,
सूने नज़ारे हो,
गर्दिश में भी चाहे,
मेरे सितारे हो,
नैया कभी मेरी,
मझधार नही होगी,
पूरा है भरोसा,
मेरी हार नही होगी,
साँवरे जब तू मेरे साथ है,
साँवरे सिर पे तेरा हाथ है।।

श्रद्धा समर्पण हो,
दिल में अगर प्यारे,
‘मोहित’ भगत के लिए,
भगवान खुद हारे,
इज्जत जमाने में,
शर्मसार नही होगी,
पूरा है भरोसा,
मेरी हार नही होगी,
साँवरे जब तू मेरे साथ है,
साँवरे सिर पे तेरा हाथ है।।

ये प्रार्थना दिल की,
बेकार नही होगी,
पूरा है भरोसा,
मेरी हार नही होगी,
साँवरे जब तू मेरे साथ है,
साँवरे सिर पे तेरा हाथ है।।

Leave a Reply