हाथ कस के पकड़ ले मेरा सांवरे भजन लिरिक्स

हाथ कस के पकड़ ले मेरा सांवरे भजन लिरिक्स | Singer : Sandeep Bansal तर्ज – हाल क्या है दिलों का ना।
यह भजन बताता है कि चाहे आप भगवान पे श्रद्धा रखें ना रखें, आप उन्हें याद करें ना करें, वह आपको कभी नहीं भूलते और आपके साथ हमेशा बने रहते हैं। उम्मीद करता हूँ आपको पसंद आएगा ।
Haath Kas ke Pakad le Mera Sanware | Sandeep Bansal Khatu Shyam Bhajan | Best Krishna Shyam Baba Bhajan Video | Latest Khatu Shyam Bhajan Sandhya | Krishna Video Bhajan 2018 Khatu Shyam latest Bhajan |
हाथ कस के पकड़ ले मेरा सांवरे | संदीप बंसल |

हाथ कस के पकड़ ले मेरा सांवरे,
मैं छुड़ाना भी चाहूँ,
छुड़ाना सकूँ।

श्लोक – तेरी करुणा की घनी छाँव में,
जी लगता है,
सांवरे अब तो तेरे,
गाँव में जी लगता है,
अश्क रुकते नहीं,
आँखों में मेरी रोके से,
इनका तो बस,
तेरे पांवों में जी लगता है।

हाथ कस के पकड़ ले,
मेरा सांवरे,
मैं छुड़ाना भी चाहूँ,
छुड़ाना सकूँ,
मेरी हार साँस पे,
श्याम लिख इस तरह,
मैं मिटाना भी चाहूँ,
मिटाना ना सकूँ,
हाथ कस के पकड ले,
मेरा सांवरे,
मैं छुड़ाना भी चाहूँ,
छुड़ाना सकूँ।।

मुझको लूटने का डर,
जग के मेले में है,
पाँच डाकू भी संतो के,
रेले में है,
ठगनी माया की,
मीठी सी बातो में मैं,
कभी आना भी चाहूँ तो,
आ ना सकूँ,
हाथ कस के पकड ले,
मेरा सांवरे,
मैं छुड़ाना भी चाहूँ,
छुड़ाना सकूँ।।

हाथ में तेरे जब तक,
मेरा हाथ है,
मुझको छुले कोई,
किसकी औकात है,
श्याम प्यारे तू,
सदा मेरे साथ है,
मैं भूलाना भी चाहूँ,
भुला ना सकूँ,
हाथ कस के पकड ले,
मेरा सांवरे,
मैं छुड़ाना भी चाहूँ,
छुड़ाना सकूँ।।

श्याम ‘संदीप’ को तू,
बना बांसुरी,
तेरे हाथो में बन के रहूं बांसुरी,
नाचू छम छम छमाछम,
सर किसी और दर पे,
कभी सांवरे,
मैं झुकना भी चाहूँ,
झुकाना सकूँ,
हाथ कस के पकड ले,
मेरा सांवरे,
मैं छुड़ाना भी चाहूँ,
छुड़ाना सकूँ।।

हाथ कस के पकड़ ले मेरा सांवरे,
मैं छुड़ाना भी चाहूँ,
छुड़ाना सकूँ,
मेरी हार साँस पे,
श्याम लिख इस तरह,
मैं मिटाना भी चाहूँ,
मिटाना ना सकूँ,
हाथ कस के पकड ले,
मेरा सांवरे,
मैं छुड़ाना भी चाहूँ,
छुड़ाना सकूँ।।

Music Video of हाथ कस के पकड़ ले मेरा सांवरे भजन

Leave a Reply