अपने पिया की मीरा बनी रे जोगणिया भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
कृष्णा थे भल आवजो, शरद पूनम री रैण।
था बिन घडी नी आवडे म्हारा बिलख लागे नैण।

अपने पिया की मीरा ,
बनी रे जोगनियाँ।
आवो नी पधारो म्हारा सांवरिया ,
ओ म्हारा सांवरिया।
मीरा बनी रे जोगनियाँ।

मनडे रो मोर थारा ,
दर्शन खातिर तरसे है।
आँख प्यारा आसुडा ,
सावण ज्यू बरसे है।
टप टप पलका सु नैण भरिया।
हो काना ! टप टप पलका सु नैण भरिया,
मीरा बनी रे जोगणिया।
अपने पिया की मीरा ,
बनी रे जोगनियाँ। टेर।

घर रा तो लोग म्हाने ,
बावळी बतावे है।
संग री सहेल्या म्हें पे ,
आगली उठावे है।
हसी उड़ावे नैना टाबरिया।
हो काना ! हसी उड़ावे नैना टाबरिया,
मीरा बनी रे जोगणिया।
अपने पिया की मीरा ,
बनी रे जोगनियाँ। टेर।

सुख सारा छोड़िया में ,
मोहन थारे कराने।
भगवा सा वेष करिया ,
आई थारे बारणे।
छोड्या परिवार छोड्या सासरिया।
हो काना छोड्या परिवार छोड्या सासरिया,
मीरा बनी रे जोगणिया।
अपने पिया की मीरा ,
बनी रे जोगनियाँ। टेर।

चाहे जितने दुःख दे ले ,
चाहे ज्यू परख ले।
एक बात म्हारी तू ,
कान खोल सुण ले।
तू मोहन में तेरी जोगनियाँ।
हो काना ! तू मोहन में तेरी जोगनियाँ,
मीरा बनी रे जोगणिया।
अपने पिया की मीरा ,
बनी रे जोगनियाँ। टेर।

moinuddin manchala bhajan lyrics bhajan music video song

अपने पिया की मीरा बनी रे जोगणिया भजन लिरिक्स apne piya ki meera bani re joganiya meera bai bhajan hindi lyrics
मीरा बाई के भजन इन हिंदी
भजन :- अपने पिया की मीरा बनी रे
गायक :- मोइनुद्दीन मनचला

Leave a Reply