काशी रे नगर सु भेरू आया तो करी भजन लिरिक्स

काशी रे नगर सु भेरू आया तो करी,
ओ भेरूजी आया तो करी,
सोनाला नगरी में दर्शन,
दीना तो करी ए हा।।

अरे खारक खोपरा थारे चाढु तो करी,
ओ भेरूजी चाढु तो करी,
दुर्बलियो देखने दर्शन,
देवीजो हरि ए हा,
अरे खारक खोपरा थारे चाढु तो करी,
ओ भेरूजी चाढु तो करी,
दुर्बलियो देखने दर्शन,
देवीजो हरि ए हा।।

राईका रे वेले भेरूजी आया तो करी,
बापजी आया तो करी,
घास मे घुमटीयो मे,
खाया तो करी ए हा,
राईका रे वेले भेरूजी आया तो करी,
बापजी आया तो करी,
घास मे घुमटीयो मे,
खाया तो करी ए हा।।

पुजारी री वेले भेरूजी आया तो करी,
ओ बापजी आया तो करी,
सोनाला नगरी में जगमग,
ज्योता तो जगी ए हा,
पुजारी री वेले भेरूजी आया तो करी,
ओ बापजी आया तो करी,
सोनाला नगरी में जगमग,
ज्योता तो जगी ए हा।।

भाकरी री धुवाडा मे बैठा तो करी,
भेरूजी बैठा तो करी,
ढोल ने नगाडा थारे,
नोपता घुरी ए हा,
भाकरी री धुवाडा मे बैठा तो करी,
भेरूजी बैठा तो करी,
ढोल ने नगाडा थारे,
नोपता घुरी ए हा।।

बांज्या री वेले भेरूजी आया तो करी,
ओ बापजी आया तो करी,
पालनो हिंडायो के,
किलकारियां करी ए हा,
बांज्या री वेले भेरूजी आया तो करी,
ओ बापजी आया तो करी,
पालनो हिंडायो के,
किलकारियां करी ए हा।।

अरे रमेश भगत रे वेले आया तो करी,
बापजी आया तो करी,
अर्जुन गावे भजन भाव सु,
आशा तो पुरी ए हा,
अरे रमेश भगत रे वेले आया तो करी,
बापजी आया तो करी,
अर्जुन गावे भजन भाव सु,
आशा तो पुरी ए हा।।

काशी रे नगर सु भेरू आया तो करी,
ओ भेरूजी आया तो करी,
सोनाला नगरी में दर्शन,
दीना तो करी ए हा।।

Leave a Reply