क्यों भूल गए श्यामा मुझे पागल समझ कर भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
दौलत छोड़ी शोहरत छोड़ी, सारा खजाना छोड़ दिया।
कृष्णा के प्रेम दीवानों ने , सारा जमाना छोड़ दिया।

क्यू भूल गए श्यामा ,
मुझे पागल समझ कर भूल गए।
पागल समझ कर भूल गए ,
श्याम पागल समझ कर भूल गए।
क्यू भूल गए श्यामा ,
मुझे पागल समझ कर भूल गए।

मेरे मन में उठी उमंगें ,
जप लू नाम तुम्हारा।
तुम श्यामा अब दर्शन दे दो ,
होगा भला हमारा।
हम हे बालक नादान ,
क्यों कर हमको भूल गए।
क्यू भूल गए श्यामा ,
मुझे पागल समझ कर भूल गए। टेर।

तुम आओ या ना आओ ,
में लूंगा नाम तुम्हारा।
जंहा कंही भी तुम जाओगे ,
पीछा करू तुम्हारा।
में छोड़ नहीं सकता ,
तुम बेशक मुझको छोड़ चले।
क्यू भूल गए श्यामा ,
मुझे पागल समझ कर भूल गए। टेर।

दुनिया में तुम भक्ति की माया ,
जल्दी फेरो भगवन।
नहीं तो इस दुनिया में श्यामा ,
धरम होयेगा भंग।
क्यू तोड़ रहे श्यामा ,
मेरा भक्ति भरा दिल तोड़ रहे।
क्यू भूल गए श्यामा ,
मुझे पागल समझ कर भूल गए। टेर।

मेरे मन में आस लगी ,
में आया पास तुम्हारे।
मातृदत्त तुम्हारा तुम बिन ,
व्याकुल नन्द दुलारे।
में भूल नहीं सकता ,
तुम क्यों कर मुझको भूल गए।
क्यू भूल गए श्यामा ,
मुझे पागल समझ कर भूल गए। टेर।

sanjay mittal ke bhajan lyrics bhajan music video song

क्यों भूल गए श्यामा मुझे पागल समझ कर भजन लिरिक्स kyun bhool gaye shyama krishna bhajan with lyrics
श्री कृष्ण भजन लिरिक्स
भजन :- क्यू भूल गये श्यामा
गायक :- संजय मित्तल

Leave a Reply