घुंघरू छम छमा छम बाजे रे मीराबाई का भजन लिरिक्स

। दोहा ।।
जनम मीरा थारो मड़ते, मरुधर जिण रो दे
दूदा जी री ाड़ली प्रभु, किदो भगवो वेश।

घुंघरू छम छमा छम ,
छण छण बाजे रे, बाजे रे।
निज मंदिर रे माय ,
म्हारी मीरा नाचे रे।
मीरा नाचे रे, आ मेड़तणी नाचे रे।

मीरा गढ़ सु उतरी रे ,
राणा जी पकड़ियो हाथ।
हाथ थे म्हारो छोड़ दो राणा ,
मुख सु कर लो बात।
घुंघरू छम छमा छम ,
छण छण बाजे रे, बाजे रे। टेर।

मीरा नाचे मेड़ते ने ,
सखिया मिन्दर मांय।
मीरा बजावे घुंगरा ने ,
सखियाँ बजावे थाल।
घुंघरू छम छमा छम ,
छण छण बाजे रे, बाजे रे। टेर।

विष रो प्यालो राणाजी भेजियो ,
दियो मीरा ने जाय।
कर चरणामृत पी गई रे ,
स्याय करी रघुनाथ।
घुंघरू छम छमा छम ,
छण छण बाजे रे, बाजे रे। टेर।

सर्प पिटारो राणाजी भेजियो ,
दियो मीरा ने जाय।
पकड़ गला में पेरियो रे ,
बण गयो नवसर हार।
घुंघरू छम छमा छम ,
छण छण बाजे रे, बाजे रे। टेर।

बाई मीरा री विनती थे ,
सुणजो सिरजणहार।
शरणे आया री लज्या राखजो ,
चारभुजा रा नाथ।
घुंघरू छम छमा छम ,
छण छण बाजे रे, बाजे रे। टेर।

jaya kishori ji ke bhajan lyrics bhajan music video song

घुंघरू छम छमा छम बाजे रे भजन लिरिक्स ghunghru chham chhama chham baje re meera bai bhajan lyrics
मीरा बाई भजन लिरिक्स in Hindi
भजन :- निज मंदिर रे माय आ मीरा नाचे
गायिका :- जया किशोरी

Leave a Reply