चालो रे चालो चालो रामदेव रे बाबा रामदेव रे दरबार लिरिक्स

चालो रे चालो चालो रामदेव रे,
बाबा रामदेव रे दरबार

दोहा – रूनीचा में धाम बाबे रो,
लोग दूर सु आवे,
भगतो रा दुख दूर करे,
बाबो परचो तुरंत दिखावे।

चालों रे चालों चालों रामदेव रे,
बाबा रामदेव रे दरबार,
चालोजी चालो चालों रामदेवरे,
बाबा रामदेव रे दरबार,
ओ धोरां माई राज करे है,
पूरन सबरा काज करे है,
पल पल दिखावे चमत्कार,
अरे चालो रे बाबा रामदेव रे दरबार।।

अरे तंवर वंश में चमक्यो तारो,
मरूधर को उद्धार कियो,
मरूधर को उद्धार कियो,
अरे नाथ द्वारिका धाम सु आया,
अजमल घर अवतार लियो,
अजमल घर अवतार लियो,
भेदभाव रा भरम मिटाया,
रामदेव युग पुरूष कहाया,
भरवा तो लाग्यो भण्डार,
भाईडा ओ चालो चालो बाबा रे दरबार।।

बनीयो विशाल समाधि मन्दिर,
धोली ध्वजा लहरावे है,
धोली ध्वजा लहरावे है,
शंख नगाडा बाजे तंदूरा,
जगमग ज्योत जगावे है,
जगमग ज्योत जगावे है,
मास भादवे भरे हैं मेलो,
भगता रो आवे है रेलो,
होवे है जय जयकार,
अरे चालों रे बाबा रामदेव रे दरबार।।

भक्ती भाव सु राजी होवे,
रामापीर निराला जी,
रामापीर निराला जी,
पल में सुने अरज भगत री,
राम रणुजे वाला रे,
राम रणुजे वाला जी,
सुनो साथीडा आयो बुलावो,
अब न मत थे देर लगावो,
‘गोपालो’ करे मनवार,
भाईडा ओ चालो चालो बाबा रे दरबार।।

चालो रे चालों चालो रामदेवरे,
बाबा रामदेव रे दरबार,
चालोजी चालों चालो रामदेवरे,
बाबा रामदेव रे दरबार,
ओ धोरां माई राज करे है,
पूरन सबरा काज करे है,
पल पल दिखावे चमत्कार,
अरे चालों रे बाबा रामदेव रे दरबार।।

https://www.youtube.com/watch?v=jaOwJcJTzH4

Leave a Reply