झूला झूले रे कन्हैया लाल कदम की डाली भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
कृष्णा रे तू मत जाणियो, तौ बिछड्यो मोहे चेन।
जैसे जल बिन माछली, वा तड़प रही दिन रेन।

डाली पे डाली पे काना ,
डाली पे डाली पे।
झूला झूले रे कन्हैयो लाल ,
कदम की डाली पे।

ब्रह्मा भी झूले ,
संग विष्णु भी झूले।
झूला झूले रे ,सरस्वती मात,
कदम की डाली पे।
डाली पे डाली पे काना ,
डाली पे डाली पे। टेर।

राम भी झूले ,
संग लक्मण भी झूले।
झूला झूले रे ,सीता मात,
कदम की डाली पे।
डाली पे डाली पे काना ,
डाली पे डाली पे। टेर।

शंकर भी झूले ,
संग विष्णु भी झूले।
झूला झूले रे ,पारवती मात,
कदम की डाली पे।
डाली पे डाली पे काना ,
डाली पे डाली पे। टेर।

राधा भी झूले,
संग रुक्मण भी झूले
झूला झुलावे मीरा बाई आप ,
कदम की डाली पे।
डाली पे डाली पे काना ,
डाली पे डाली पे। टेर।

prakash mali ke bhajan

झूला झूले रे कन्हैया लाल कदम की डाली, jhula jhule re kanhaiya lal shri krishna kanhaiya ke bhajan lyrics,
श्री कृष्ण के भजन लिरिक्स,
भजन :- झूला झूले रे कन्हैयो लाल,
गायक :- प्रकाश माली,

Leave a Reply