नहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का भजन लिरिक्स

नहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का।
सदा न रहा है ,सदा ना रहेगा ,
जमाना किसी का।

आएगा बुलावा तो जाना पड़ेगा।
सर तुझको आखिर झुकाना पड़ेगा।
वहा ना चलेगा ,बहाना किसी का।
नहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का। टेर। ….

शोहरत तुम्हारी बह जायेगी ये।
दौलत यही पर रह जायेगी ये।
नहीं साथ जाता , खजाना किसी का।
नहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का। टेर। ….

पहले तुम अपने आप को सम्भालो।
हक़ नहीं तुमको बुराई ओरो में निकालो।
बुरा है बुरा जग में ,बताना किसी का।
नहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का। टेर। ….

दुनिया का गुलशन सजा ही रहेगा।
ये तो जहां में लगा ही रहेगा।
आना किसी का जग में, जाना किसी का।
नहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का। टेर। ….

चेतावनी भजन हिंदी लिरिक्स
भजन :- नहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का
गायक :- प्रमोद कुमार
नहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का भजन लिरिक्स, nahi chahiye dil dukhana kisi ka hindi chetawani bhajan lyrics नहीं चाहिए दिल दुखाना

मैं तो उन रे संता रो हूँ दास जिन्होंने मन मार लिया भजन लिरिक्स

नाभि रे कमल नेजा रोपिया हो राज सुरता ऊँची रे चढ़े भजन लिरिक्स

pramod kumar ke bhajan

nahi chahiye dil dukhana kisi ka chetawani bhajan lyrics

nhi chahiye dil dukhana kisi ka.
sada na raha hai,sada na rahega,
jamana kisi ka.

aayega bulava to jana padega.
sar tujhko aakhir jhukana padega.
vaha na chalega,bahana kisi ka.
nhi chahiye dil dukhana kisi ka.

shoharat tumhari bah jayegi ye.
dolat yahi par rah jayegi ye.
nhi sath jata,khajana kisi ka.
nhi chahiye dil dukhana kisi ka.

pahle tum apne aap ko sambhalo.
hak nhi tumko burai oro me nikalo.
bura hai bura jag me,batana kisi ka.
nhi chahiye dil dukhana kisi ka.

duniya ka gulshan saja hi rahega.
ye to jaha me laga hi rahega.
aana kisi ka jag me,jana kisi ka.
nhi chahiye dil dukhana kisi ka.

This Post Has One Comment

Leave a Reply