माँ ऊँचे भाकर बिराजीया कुलदेवी ब्राम्हणी म्हारी माँ

माँ ऊँचे भाकर बिराजीया,
माँ ऊंचे भाकर बिराजीया,
कुलदेवी ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
दर्शन म्हाने देवजो,
दर्शन म्हाने देवजो,
ए आया बालक ने नर नार,
थारी महिमा रो पायो नी पार,
माँ थारी महिमा रो पायो नी पार,
सुनो ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
चितौड़ वाली ब्राम्हणी माँ।।

माँ लाल चुनडीया ओडने,
माँ लाल चुनडीया ओडने,
ए भगता रे घर आवो आज,
तारा जडाई चुनडी माँ,
तारा जडाई चुनडी,
जिन मे हीरा रो देवु जडाव,
थारी महिमा रो पायो नी पार,
माँ थारी महिमा रो पायो नी पार,
सुनो ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
चितौड़ वाली ब्राम्हणी माँ।।

माँ लाडू चाढू चूरमो,
माँ लाडू चाढू चूरमो,
थारे लावु लीलोडा मै तो नारेल,
धूपा री वेला आवजो,
माँ धूपा री वेला आवजो,
देवो दर्शन थे म्हाने आज,
थारी महिमा रो पायो नी पार,
माँ थारी महिमा रो पायो नी पार,
सुनो ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
चितौड़ वाली ब्राम्हणी माँ।।

माँ ढोल नगाडा बाजता,
माँ ढोल नगाडा बाजता,
माँ प्यारो झालर रो है झनकार,
आरतीया री वेला आवजो,
माँ आरतीया री वेला आवजो,
कर मैया सोलह सिन्गार,
थारी महिमा रो पायो नी पार,
माँ थारी महिमा रो पायो नी पार,
सुनो ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
चितौड़ वाली ब्राम्हणी माँ।।

माँ पैदल पैदल आवसा,
माँ पैदल पैदल आवसा,
थारी तो मै बोला जयकार,
हेले हाजिर रेवजो माँ,
हेले हाजिर रेवजो,
पुकार भगता रो परिवार,
थारी महिमा रो पायो नी पार,
माँ थारी महिमा रो पायो नी पार,
सुनो ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
चितौड़ वाली ब्राम्हणी माँ।।

माँ भगत मंडल री विनती,
माँ भगत मंडल री विनती,
ए कर जोड्या करे है पुकार,
‘माली भूरजी’ री विनती,
माँ माली भूरजी री विनती,
ए गहलोत वंश ए थाने मनाय,
थारी महिमा रो पायो नी पार,
माँ थारी महिमा रो पायो नी पार,
सुनो ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
चितौड़ वाली ब्राम्हणी माँ।।

माँ ऊँचे भाकर बिराजीया,
माँ ऊंचे भाकर बिराजीया,
कुलदेवी ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
दर्शन म्हाने देवजो,
दर्शन म्हाने देवजो,
ए आया बालक ने नर नार,
थारी महिमा रो पायो नी पार,
माँ थारी महिमा रो पायो नी पार,
सुनो ब्राम्हणी ए म्हारी माँ,
चितौड़ वाली ब्राम्हणी माँ।।

Leave a Reply