वेगा पधारो म्हारा सतगुरु कठिन घडी है भजन लिरिक्स

वेगा पधारो म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

दोहा – सतगुरु आवत देखीया,
ज्यारे खांदे लाल बंदूक,
गोली दागी हरि नाम री,
तो भाग गया जमदूत।

आप बिना मेरो कौन धणी है,
आप बिना मेरों कौन धणी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

भंवर सागर ओ अथंग जल भरीयो,
भंवर सागर अथंग जल भरीयो,
अरे खेवटीया बनीया आप धणी रे,
खेवटीया बनीया आप धणी रे,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

दुखीया ने देख दाता देर मत करजो,
दुखीया ने देख दाता देर मत करजो,
अरे देर करन री वेला ओर घडी है,
देर करन की वेला ओर घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

सतगुरु दाता पर उपकारी,
सतगुरु दाता पर उपकारी,
चरणे आया ने लेवे ऊबारी,
चरणे आया ने लेवे ऊबारी,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

ए मीरा कहे रे प्रभु अरज हमारी,
मीरा कहे रे प्रभु अरज हमारी,
अरे अरज थोडी ओर गरज घणी है,
अरज थोड़ी ओर गरज घणी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

आप बिना मेरो कौन धणी है,
आप बिना मेरों कौन धणी है,
वेगा पधारो म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

This Post Has One Comment

Leave a Reply