सुरता होजा नी भजन वाली लार मारवाड़ी भजन लिरिक्स

सुरता होजा नी भजन वाली लार,
दिखाऊँ थाने राम नगरी,
राम नगरी रे थाने प्रेम नगरी,
सुरता होजा नी भजन री लार,
दिखाऊँ थाने राम नगरी।।

सुरता मत कर मान गुमान,
काया थारी ऐब सु भरी,
सुरता सारी थारी ऐब मीट जाय,
गुरा रे शरणे आया तो खरी,
सुरता होजा नी भजन री लार,
दिखाऊँ थाने राम नगरी।।

सुरता ऊपर थारे बेरीया रो वास,
मारेला तने ऐब री घड़ी,
सुरता सारी थारी एब मीट जाय,
सतगुरु रे चरणे आय तो खरी,
सुरता होजा नी भजन री लार,
दिखाऊँ थाने राम नगरी।।

सुरता सात समन्द दरीयाव,
अद बिच में नाव अटकी पड़ी,
सुरता किस विद उतरेला पार,
साची माया जाल में फसी,
सुरता होजा नी भजन री लार,
दिखाऊँ थाने राम नगरी।।

सुरता गुरु मिलीया नाथ गुलाब,
दिवी मने अमर जड़ी,
सुरता गावे गावे भवानी नाथ,
सतसंग से म्हारी काया सुधरी,
सुरता होजा नी भजन री लार,
दिखाऊँ थाने राम नगरी।।

सुरता होजा नी भजन वाली लार,
दिखाऊँ थाने राम नगरी,
राम नगरी रे थाने प्रेम नगरी,
सुरता होजा नी भजन री लार,
दिखाऊँ थाने राम नगरी।।

Leave a Reply