भोले बाबा शरण में तुम्हारी शिव भजन लिरिक्स

भोले बाबा शरण में तुम्हारी,
बैठे दर पे तेरे,
बैठे दर पे तेरे,
कब लोगे खबरिया हमारी,
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी

अपनी मस्ती में बैठे हो बाबा,
अपनी मस्ती में बैठे हो बाबा,
क्यों तुम सुनते नहीं,
क्यों तुम सुनते नहीं,
भक्तों से क्या रूठे हो बाबा,
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी।।

भोले भाले हो जग से निराले,
भोले भाले हो जग से निराले,
टूटी कश्ती मेरी,
टूटी कश्ती मेरी,
भोले कर दी हैं तेरे हवाले,
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी।।

भोले ‘बनवारी’ तेरा पुजारी,
भोले ‘बनवारी’ तेरा पुजारी,
भोले कर दो दया,
भोले कर दो दया,
तेरे दर का मैं हूँ भिखारी,
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी।।

भोले बाबा शरण में तुम्हारी,
बैठे दर पे तेरे,
बैठे दर पे तेरे,
कब लोगे खबरिया हमारी,
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी
भोलें बाबा शरण में तुम्हारी।।

Leave a Reply