अब तो आकर बांह पकड़ लो,
वरना मैं गिर जाऊंगा,
सागर इतना गहरा है की,
डूब प्रभु मैं जाऊंगा,
अब तो आकर बाँह पकड़ लो,
वरना मैं गिर जाऊंगा।।

क्रोध के कारण अंधे होकर,
तुमको भी ललकार दिया,
जब जी चाहा पूजा की और,
जब चाहा दुत्कार दिया,
नादानी की आड़ में कबतक,
गलती मैं दोहराऊंगा,
अब तो आकर बाँह पकड़ लो,
वरना मैं गिर जाऊंगा।।

कुछ तो मेरे करम है ऐसे,
जिन पर मैं शर्मिंदा हूँ,
सिर पे कर्ज है दुनिया का बस,
इसीलिए मैं जिन्दा हूँ,
तुमने भी मुंह फेर लिया तो,
और कहाँ मैं जाऊंगा,
अब तो आकर बाँह पकड़ लो,
वरना मैं गिर जाऊंगा।।

अब तो आकर बांह पकड़ लो,
वरना मैं गिर जाऊंगा,
सागर इतना गहरा है की,
डूब प्रभु मैं जाऊंगा,
अब तो आकर बाँह पकड़ लो,
वरना मैं गिर जाऊंगा।।

अब तो आकर बाहं पकड़ लो वरना मैं गीर जाऊँगा ( श्याम भजन )
ऐसा दर्द भरा भजन सुनकर रोना आजाए – Heart Touching Krishan Bhajan – Sad Krishan Bhajan#SadKrishanBhajan #KrishanBhajan #Heart_TouchingBhajan
Album :- Ishwar Satya Hai
Song :- Ab To Aakar Baah pakadlo
Singer :- Ravi Raj
Lyrics :- Traditional
Music Director :- Lovely Sharma
Edit :- Alok Kumar
Company / Label :- Bhakti Aradhana

फिल्मी तर्ज भजन अब तो आकर बांह पकड़ लो वरना मैं गिर जाऊंगा लिरिक्स
तर्ज – कस्मे वादे प्यार वफ़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.