गुरू रामनिवास जी ने बार बार वंदना,

दोहा – गुरू देवन के देव हो,
आप बडे जगदीश,
बेडी भवजल बीच में,
तारो विश्वा विश।
सतगुरु दियो नाम रो,
ओर क्या जाने संसार,
घिरत सिचावे प्रेम रो,
तो उतरो भवजल पार।।

गुरू रामनिवास जी ने बार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
गुरू रामनिवास जी ने बार बार वँदना।।

लवेरा कुरत माई जामोजी पायो,
लवेरा कुरत माई जामोजी पायो,
भगती भाव मे गुरूजी मनडो लगायो,
भजन भाव मे गुरूजी मनडो लगायो,
ग्यान ध्यान गुरू आप समायो,
ग्यान ध्यान गुरू आप समायो,
म्हारा गुरुदेव जी ने बार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
गुरू रामनिवास जी ने बार बार वँदना।।

माता काली देवी लाड लडायो,
माता काली देवी लाड लडायो,
पिता मांगीलाल जी ग्यान बतायो,
पिता मांगीलाल जी ग्यान बतायो,
प्रेम भाव सु जीवन बितायो,
प्रेम भाव सु जीवन बितायो,
ऐसा परमार्थी ने बार बार वंदना,
ऐसा परमार्थी ने बार बार वंदना,
म्हारा गुरुदेव जी ने बार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
गुरू रामनिवास जी ने बार बार वँदना।।

कथा किर्तन मे गुरूजी ध्यान लगायो,
कथा किर्तन मे गुरूजी ध्यान लगायो,
वाणी भजना मे गुरूजी ग्यान बतायो,
वाणी भजनो मे गुरूजी ग्यान बतायो,
सब दुनिया ने ग्यान दिरायो,
सब दुनिया ने ग्यान दिरायो,
ऐसा ग्यानी गुरूजी ने बार बार वंदना,
ऐसा ग्यानी गुरूजी ने बार बार वंदना,
म्हारा गुरुदेव जी ने बार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
गुरू रामनिवास जी ने बार बार वँदना।।

See also  गाड़ी जावे गुरु जी रे देश कोई नर चालो रे भजन लिरिक्स

भादरवे वदी एकम ने स्वर्ग सिदाया,
भादरवे वदी एकम ने स्वर्ग सिदाया,
सब भगता रेनिया मे आप समाया,
सब भगता रेनिया मे आप समाया,
राव गजेन्द्र ने ग्यान बताया,
हर्ष माली गुरू गीत बनाया,
राव गजेन्द्र ने ग्यान बताया,
हर्ष माली गुरू गीत बनाया,
ऐसा गुरूदेव जी ने बार बार वंदना,
ऐसा महापुरुष जी ने बार बार वंदना,
म्हारा गुरुदेव जी ने बार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
गुरू रामनिवास जी ने बार बार वँदना।।

गुरू रामनिवास जी ने बार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
बार बार वंदना हजार बार वंदना,
गुरू रामनिवास जी ने बार बार वँदना।।

music video bhajan song

राजस्थानी भजन गुरू रामनिवास जी ने बार बार वंदना भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *