हे माँ शेरोँवाली,
सुनो ज्योता वाली,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया,
तू अपनाले चाहे,
या ठुकरादे मइया,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया।।

तेरे रूप का क्या,
मै वर्णन करूँ माँ,
मै बालक हूँ बस,
तुझको वंदन करू माँ,
सबकी भरती हो झोली,
हे माँ अम्बे काली,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया,
तू अपनाले चाहे,
या ठुकरादे मइया,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया।।

करदो मुझपे दया अब,
ना करना माँ देरी,
आज सुनलो ये विनती,
हे माँ अम्बै मेरी,
करूँ भेट क्या मै,
माँ है हाथ खाली,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया,
तू अपनाले चाहे,
या ठुकरादे मइया,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया।।

अपने भक्तो को कष्टो,
से तुमने उबारा,
गाता है माँ जमाना,
सदा गुण तुम्हारा,
तीनो लोको से भी,
माँ की महिमा है न्यारी,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया,
तू अपनाले चाहे,
या ठुकरादे मइया,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया।।

हे माँ शेरोँवाली,
सुनो ज्योता वाली,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया,
तू अपनाले चाहे,
या ठुकरादे मइया,
सवाली तेरे द्वार पर आ गया।।

दुर्गा माँ भजन हे माँ शेरोँवाली सुनो ज्योता वाली भजन लिरिक्स
तर्ज – ऐ फूलो की रानी।

See also  गरजे रण में पवन कुमार सम्भल ऐ लंका के सरदार लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *