Details
Song : 2 Sau Ke Kakahi (2 सौ के ककही)
Singer : Pawan Singh
Lyrics : Arun Bihari
Music : Chhotu Rawat

Do Sau Ke Kakahi Song Lyrics in Hindi

तबे नु हम जननी
तबे नु हम जननी

ऐ मधु

हाँ डिम्पल बोला
काहे उदास बाड़ू हो.
छोड़ा अब का कही
अरे बतइबू तबय न हम जानब

दो सौ के ककही से माथ जब झार
अच्छा
पाउडर क्रीम ओरवा दिया सारा
अरे ई कईसे हो ?
ओरवा दिया सारा

दो सौ के ककही से माथ जब झार
पाउडर क्रीम ओरवा दिया सारा
तबे नु हम जननी
जननी.. जननी

का हो ?

तबे नु हम जननी
ससुरा में सईया आवारा
तबे नु हम जननी
ऐ सखी सईया आवारा
तबे नु हम जननी
अच्छा ता ई बात बा

नईहर से मिलल सामान सब सिंगार के
ईहे सधावे सेंट मार के
फेरा में ना रहे रोटी रोजगार के
घरहि घुमेला लुंगी झार के

झार के

नईहर से मिलल सामान सब सिंगार के
ईहे सधावे सेंट मार के
फेरा में ना रहे रोटी रोजगार के
घरहि घुमेला लुंगी झार के

आज ले ना किन के दिया कहियो डाड़ा
लागता की एहिजा ना होई गुजारा
तबे नु हम जननी

आय हाय

तबे नु हम जननी
ऐ सखी सईया आवारा
तबे नु हम जननी
ससुरा में सईया आवारा
तबे नु हम जननी
जननी जननी

अरे तोहार मरद ता बड़ा मिजाजी बाड़न हो
चुप रहा तू का जनबू ?
अरे सत्यवा
हाँ माई बोल
ते पढ़बे की ना ?
ना हमहू अपना पपे लेखा बाल झारब
अरे.

पुछला पा कहे की हई बीए पास हो
खेलेला बगईचे में ताश हो

अपने मरद पे ना बाते विश्वास हो
सब धन करता नाश हो
नाश हो

ता सुधार दा
कईसे?
धईले रहा

पुछला पा कहे की हई बीए पास हो
खेलेला बगईचे में ताश हो
अपने मरद पे ना बाते विश्वास हो
सब धन करता नाश हो

अरुण बिहारी पवन मन बिगाड़ा
रानू दीपक संघे घुमेला आरा
तबे नु हम जननी
ओह हो सब संगत के दोष बा
तबे नु हम जननी
ससुरा में सईया आवारा
तबे नु हम जननी
ऐ सखी सईया आवारा
तबे नु हम जननी
जननी जननी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *