Rang Dalba T Dehab Hajar Gaari Lyrics Hindi – Dinesh Lal Yadav

DETAILS :

गाना: Rang Dalba T Dehab Hajar Gaari
गायक: Dinesh Lal Yadav & Antra Singh
गीतकार: Pyare Lal Yadav
संगीतकार: Ashish Verma
रिकॉर्ड लेबल: Nirahua Music World

FULL LYRICS :

अरे-अरे ई का करा तारा हो
का करा तारा मतलब
अरे होली के दिन ह रंग डाला तानी
अउर का करा तानी
दिमाग ख़राब बा तोहार रंग डाला तारा
देखा तारा का पहिरले बानी हम
का पहिरले बाडू
अरे लखनुआ लहंगा ह
लखनुआ लहंगा ह त

हजार गारी हो हजार गारी
हजार गारी हो हजार गारी
रंग डलबा त देहब, सुन ल
रंग डलबा त देहब हजार गारी
रंग डलबा त देहब हजार गारी
रंग डलबा त देहब

हजार गारी रे हजार गारी
हजार गारी रे हजार गारी
हमार खुछ न बिगाड़ी, सुन ल
हमार खुछ न बिगाड़ी तोहार गारी, अच्छा
हमार खुछ न बिगाड़ी हजार गारी,
हमार खुछ न बिगाड़ी

तोहके जेतना गरियावे के बा
गरिया ल, अच्छा
लेकिन आज हम छोड़े वाला नईखी
ह त थुरईबा तू

[संगीत]

भागा ना त धरा जईबा बाबु
आज ले न धरईनी त अब का धराईब
थेथर मत बना
होली के दिनवा पिटा जईबा बाबू
अरे तू हमार चिंता छोड़ा अपने बारे में सोचा [ह न]

रंग दलावईबू न फागुन के के अन्दर
अगला जनमावा होखाबू छुछुंदर
घुमे के परी नवदान नारी
देखि आशिशवा बहुते मारी
अरे उ का मारी ऊ प्यारे लाल कवी जी साथे बईठ
के दारु पियता

रंग डलबा त देहब हजार गारी

हमार खुछ न बिगाड़ी तोहार गारी,
हमार खुछ न बिगाड़ी

See also  Matha Bhi Piunga Fook Ke – Pawan Singh, Priyanka Singh

अरे गारी त कुछ ना बिगाड़ी
बाकी हो जाई बेटा मारा-मारी

पेन्हले बानी डरेस तनी महंगा
अरे एही डरेस के पीछे बड़ी बवाल भईल बा ए बाबू
कईसन बवाल
रंगे ना देहब ई लखनउआ लहंगा
एकर मतलब तू हमरा बारे में ठीक से नईखु जानत

करके आइल बानी फुल तईयारी
हमके ना समझा रितेश-खेसारी
नाही मनबा त लहब डबल साड़ी
हम किन देब तोहके दूकान साड़ी

नाही किनबा त देहब हजार गारी
चला लहंगा दिया दीं बहुत भारी
नाही किनबा त देहब हजार गारी
चला लहंगा दिया दीं

ह त ठीक बा ल लगा ल
एक दम आराम से खड़ा रहा
हो हो, अरे आराम से
हो हो, अरे तनी अउर आराम से
हो गईल न, त चला दिया द

आही बाप, का भईल
एक बात बतावल त भुलाइये गईनी
कवन बात

आज बंद बा ए रनिया दूकान सारी
आज बंद बा ए रानी दूकान सारी
आज बंद बा हो रनिया दूकान सारी

काल दिवा देब
भाक झूठा कहींका, भगबा की न इहाँ से
अरे अरे मतलब, होली के दिन दूकान बंद रहेला
ई तोहके ना मालुम ह
भागा इन्हा से, थागेरा कहींका
होली में चुना लगा के चल गईल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *