ऊंचा नीचा पहाड़ भेरू सोनाला रा दिखे भेरू लटीयाला

ऊंचा नीचा पहाड़ भेरू,सोनाला रा दिखे,अरे काले गोरे ए खेतलाजी,मारो मनडो मोयो रे,भेरू लटीयाला,काले गोरे ए खेतलाजी,मारो मनडो मोयो रे,भेरू लटीयाला,अरे सोगाला सोनाला वालो रे,भेरू लटीयाला।। ए चौकपरा मालनीया,भेरूजी रे सेवरा लावे रे,ए चौकपरा री मालनीया,भेरूजी रे हेवरा लावे रे,भानराव री घाचनीया,कोई तेल चढावे रे,भेरू लटीयाला,अरे भानराव री घाचनीया,जटे तेल …

Read more

भई रे राखजो मनडा में विश्वास मिलेला थाने राम धणी

भई रे राखजो मनडा में विश्वास,मिलेला थाने राम धणी,भई रे राखजो मनडा मे विशवास,मिलेला थाने राम धणी,ओ भई रे सिवरू मै दिन ने रात,मिलेला थाने राम धणी।। ओ भई रे माता मैणादे वालो लाल,रूनीचा ज्यारो देवरो,भई रे माता मैणादे वालो लाल,रूनीचा ज्यारो देवरो,ओ भई रे कहलावे द्वारिका रो नाथ,भगता रो …

Read more

रूणझुण घुंगर माल बाजे रामदेव जी भजन लिरिक्स

रूणझुण घुंगर माल बाजे, रूणझुण रूणझुंण रूणझुंण,घुंगर माल बाजे,रूणझुंण रूणझुंण रूणझुंण,घुंगर माल बाजे,टप टप टप लीले वाली टापा बाजे रेे,टप टप टप लीले वाली टापा बाजे रेे,पीर रो घोडो आवे रे,ए आवे रे आवे रे म्हारे,बापजी रो घोडलीयो आवे,आवे रे आवे रे म्हारे,बापजी रो घोडलीयो आवे।। केसरिया बागों है थारो,नेजो …

Read more

दरगाह में अरज सुनावा रूनीचा वाला रामदेव पधारो लिरिक्स

दरगाह में अरज सुनावा,रूनीचा वाला रामदेव पधारो,दरगाह मे अरज सुनावा,रूनीचा वाला रामदेव पधारो,रामदेव पधारो म्हारा पीरजी पधारो,रामदेव पधारो म्हारा पीरजी पधारो,चौखट पे शिश नमावा,रूनीचा वाला पीरजी पधारो।। द्वारिका रा नाथ बाबा आप कहावो,द्वारिका रा नाथ बाबा आप कहावो,भगता रा दुखडा थेतो पल में मिटावो,भगता रा दुखडा थेतो पल में मिटावो,दीन …

Read more

मेरी सुरता सुहागण नार पिये ने किया भूल गई लिरिक्स

मेरी सुरता सुहागण नार,पिये ने किया भूल गई। दोहा – निवण बड़ी संसार में,ओर नहीं निवे सो नीच,निवे नदी रो गुदलो,रेव नदी के बीच।अरे निवे अंबा अमली,ओर निवे दाड़मदाख,इरड बिचारा क्या निवे,जारी ओछी कहीजे जात।शशि बिना सुनी रेण,ज्ञान बिना हिरदा सुना,गज सुना बीन दांत,नीर बिना सागर सुना,कुल सुना बीन पुत।पात …

Read more

काया रूपी चुनड़ी में रंग चढ़ ग्यो मुरली वालों सांवरो

काया रूपी चुनड़ी में,रंग चढ़ ग्यो। दोहा – मुरली वाले सांवरा,तेरी मुरली नेक बजाई,इण मुरली में मारो मन बसो,कान्हा एकर और बजाए। काया रूपी चुनड़ी मे,रंग चढ़ ग्यो,मुरली वालों सांवरो,मारे मन बसग्यो।। काया रूपी चुनड़ी में,खाटू में रंगाऊली,ओढ के चुनड़ी मे,श्याम आगे जाऊंला,ओर रंग ओढू कोनी,हियो नटग्यो,मुरली वालों सांवरो,मारे मन …

Read more

हे दीनबंधु दयालु कहाँ हो भजन लिरिक्स

हे दीनबंधु दयालु कहाँ हो,मैं ग़म का मारा,लेने सहारा,आया हूँ दर पे तेरे,मुझे भी निभाओ,हे दीनबंधू दयालु कहाँ हो।। आ गया मैं शरण,साँवरे आपकी,है उम्मीदें बड़ी,मुझको इंसाफ की,खड़ा हूँ मैं बाबा,तेरे कठघरे में,न्यायधीष मेरा भी,न्याय चुकाओ,हे दीनबंधू दयालु कहाँ हो।। जा के किस से कहूँ,मैं मेरी बेबसी,जग उड़ाने लगा,अब तो …

Read more

सांवरा म्हारी प्रीत निभाज्यो जी भजन लिरिक्स

सांवरा म्हारी प्रीत निभाज्यो जी,म्हारी प्रीत निभाज्यो जी।। थे छो म्हारा गुण रा सागर,अवगुण म्हारो मति ध्याजो जी,लोकन धीजै मन न पतीजै,मुखडारा सबद सुणाज्यो जी,साँवरा म्हारी प्रीत निभाज्यो जी,म्हारी प्रीत निभाज्यो जी।। दासी थारी जनम जनम री,म्हारे आंगणा रमता आज्यो जी,मीरा के प्रभु गिरधर नागर,बेड़ो पार लगाज्यो जी,साँवरा म्हारी प्रीत …

Read more