आम हिंदुस्तानी Aam Hindustani Lyrics in Hindi from Bombay Velvet (2015)

Aam Hindustani Lyrics in Hindi. आम हिंदुस्तानी song from Bombay Velvet 2015. It stars Ranbir Kapoor, Anushka Sharma, Karan Johar, Kay Kay Menon, Manish Choudhary, Raveena Tandon, Siddhartha Basu, Remo Fernandes. Singer of Aam Hindustani is Shefali Alvares. Lyrics are written by Amitabh Bhattacharya Music is given by Amit Trivedi

Song Name : Aam Hindustani
Album / Movie : Bombay Velvet 2015
Star Cast : Ranbir Kapoor, Anushka Sharma, Karan Johar, Kay Kay Menon, Manish Choudhary, Raveena Tandon, Siddhartha Basu, Remo Fernandes
Singer : Shefali Alvares
Music Director : Amit Trivedi
Lyrics by : Amitabh Bhattacharya
Music Label : Fox Star Hindi

Aam Hindustani Lyrics in Hindi Bombay Velvet 2015

Aam Hindustani Lyrics in Hindi :

धोबी का कुत्ता जैसे घात का न घर का
पूरी तरह न इधर का
सुन रे निखट्टु तेरा वोहि तो हाल है

ज़िन्दगी की रेस में जो मुंह उठा के दौड़ा
ज़िन्दगी ने मारी लात पीछे छोड़ा
तू है वो टट्टू
प्यार में ठेंगा…
बार में ठेंगा…
इनकी बोतल भी गोरों की गुलाम है
रूठी है महबूबा
रूठी रूठी शराब है
हे आम हिन्दुस्तानी तेरी किस्मत खराब है
रूठी है महबूबा
रूठी रूठी शराब है
हे आम हिन्दुस्तानी तेरी किस्मत खराब है

आसमान से यूँ गिरे
तेरे हालात ने उठके तुझको पटका
की ऐसी चम्पी की तेरे होश उड़ गए
बेवफ़ाई देख के जो ायी तुझको हिचकी
चौड़ी छाती तेरी चुटकियों में पिचकी
ग़म की पप्पी मुआह मिली तो बाल झड़ गए

प्यार में ठेंगा…
बार में ठेंगा…
इनकी बोतल भी गोरों की गुलाम है
रूठी है महबूबा
रूठी रूठी शराब है
हे आम हिन्दुस्तानी तेरी किस्मत खराब है
रूठी है महबूबा
रूठी रूठी शराब है
हे आम हिन्दुस्तानी तेरी किस्मत खराब है

आदमी नहीं तू समझे खुद को मछली
उलटी गंगा में है तैरने की खुजली
पर यह हुकूमत जो है मगरमच्छ है
लालच ने तुझको ऐसी पट्टी पढ़ाई
ख्वाहिश ने ली है देगची कढाई
तक़दीर तेरी अभी भी चम्मच में है

प्यार में ठेंगा..ठेंगा..
बार में ठेंगा…
इनकी बोतल भी गोरों की घुलम है
रूठी है महबूबा
रूठी रूठी शराब है
हे आम हिंदुस्तानी तेरी किस्मत खराब है
रूठी है महबूबा
रूठी रूठी शराब है
हे आम हिंदुस्तानी तेरी किस्मत खराब है.

Aam Hindustani Lyrics in English :

Dhobi ka kutta jaise ghaat ka na ghar ka
Poori tarah na idhar ka, na udhar ka
Sun re nikhattu tera wohi to haal hai

Zindagi ki race mein jo munh utha ke dauda
Zindagi ne maari laat peeche chhoda
Tu hai wo tattu, gadhe si jiski chaal hai
Pyaar mein thenga…
Bar mein thenga…
Inki botal bhi goron ki gulaam hai
Roothi hai mehbooba
Roothi roothi sharaab hai
Hey aam hindustaani teri kismat kharaab hai
Roothi hai mehbooba
Roothi roothi sharaab hai
Hey aam hindustaani teri kismat kharaab hai

Aasmaan se yun gira, khajoor pe tu atka
Tere haalaat ne uthake tujhko patka
Kee aisi champi ki tere hosh ud gaye
Bewafaai dekh ke jo aayi tujhko hichki
Chaudi chhaati teri chutkiyon mein pichki
Gham ki pappi muaah mili to baal jhad gaye

Pyaar mein thenga…
Bar mein thenga…
Inki botal bhi goron ki gulaam hai
Roothi hai mehbooba
Roothi roothi sharaab hai
Hey aam hindustaani teri kismat kharaab hai
Roothi hai mehbooba
Roothi roothi sharaab hai
Hey aam hindustaani teri kismat kharaab hai

Aadmi nahi tu samjhe khud ko machhli
Ulti ganga mein hai tairne ki khujli
Par yeh hukoomat jo hai magarmachh hai
Laalach ne tujhko aisi patti padhaai
Khwaahish ne li hai degchi kadhaai
Taqdeer teri abhi bhi chammach mein hai

Pyaar mein thenga..thenga..
Bar mein thenga…
Inki botal bhi goron ki ghulam hai
Roothi hai mehbooba
Roothi roothi sharaab hai
Hey aam hindustani teri kismat kharaab hai
Roothi hai mehbooba
Roothi roothi sharaab hai
Hey aam hindustani teri kismat kharaab hai.

Leave a Comment

Your email address will not be published.