Kaun Kehata Hai Mulaakaat Nahi Hoti Lyrics in Hindi. कौन कहता है मुलाक़ात नहीं होती song from Blackmail 2005. It stars Ajay Devgn, Suniel Shetty, Priyanka Chopra, Dia Mirza. Singer of Kaun Kehata Hai Mulaakaat Nahi Hoti is Jayesh Gandhi, Shaan, Shreya Ghoshal. Lyrics are written by Sameer Music is given by Himesh Reshammiya

Song Name : Kaun Kehata Hai Mulaakaat Nahi Hoti
Album / Movie : Blackmail 2005
Star Cast : Ajay Devgn, Suniel Shetty, Priyanka Chopra, Dia Mirza
Singer : Jayesh Gandhi, Shaan, Shreya Ghoshal
Music Director : Himesh Reshammiya
Lyrics by : Sameer
Music Label : T-Series

Kaun Kehata Hai Mulaakaat Nahi Hoti Lyrics in Hindi Blackmail 2005

Kaun Kehata Hai Mulaakaat Nahi Hoti Lyrics in Hindi :

कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
सावन भी आया रे
बादल भी छाया रे
आँचल लहराया है
फिर भी मैं चाहि
बरसात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
ो..मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती

चाहत के रंग बरसे
बिखरे गुलों की लड़िया
बेताब दिल न तरसे
आई मिलन की घडिया
बेताब दिल न तरसे
आई मिलन की घडिया
कितना तड़पाती हैं
दिन आते जाते हैं
आलम महकाते हैं
फिर भी सपनों की
वह रात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती

देखे थे जो नजर ने
वह खाब है अधूरे
न जाने होंगे कैसे
अरमान दिल के पुरे
न जाने होंगे कैसे
अरमान दिल के पुरे
रग रग में बहती हैं
अफ़साने कहती हैं
यादो में रहती हैं
फिर भी लगता हैं
वह साथ नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
कौन कहता हैं
मुलाक़ात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती
मिलते रहते हैं
पर बात नहीं होती.

Kaun Kehata Hai Mulaakaat Nahi Hoti Lyrics in English :

Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
Saawan bhi aaya re
Baadal bhi chhaaya re
Aanchal lehraaya hai
Phir bhi mann chaahi
Barsaat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
O..milate rehate hain
Par baat nahi hoti

Chaahat ke rang barase
Bikhare gulon ki ladiya
Betaab dil na tarase
Aayi milan ki ghadiya
Betaab dil na tarase
Aayi milan ki ghadiya
Kitna tadpaate hainn
Din aate jaate hainn
Aalam mehkaate hain
Phir bhi sapano ki
Woh raat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti

Dekhe the jo najar ne
Woh khaab hai adhure
Na jaane honge kaise
Armaan dil ke pure
Na jaane honge kaise
Armaan dil ke pure
Rag rag mein behati hain
Afsaane kehati hain
Yaado mein rehati hain
Phir bhi lagata hain
Woh saath nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Kaun kehata hain
Mulaakaat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti
Milate rehate hain
Par baat nahi hoti.

Leave a Reply

Your email address will not be published.