Mann Jaage Lyrics in Hindi. मैं जागे song from Bittoo Boss 2012. It stars Pulkit Samrat, Amita Pathak. Singer of Mann Jaage is Shahid Mallya. Lyrics are written by Rakesh Kumar (Kumaar) Music is given by Raghav Sachar

Song Name : Mann Jaage
Album / Movie : Bittoo Boss 2012
Star Cast : Pulkit Samrat, Amita Pathak
Singer : Shahid Mallya
Music Director : Raghav Sachar
Lyrics by : Rakesh Kumar (Kumaar)
Music Label : T-Series

Mann Jaage Lyrics in Hindi Bittoo Boss 2012

Mann Jaage Lyrics in Hindi :

मैं जागे साड़ी
रात मेरा दीवाना
मैन माने न यह
बात के वह था बेगाना
मैं जागे साड़ी
रात मेरा दीवाना
मैन माने न यह
बात के वह था बेगाना
है खुद से ही खफा खफा
क्या चाहिए नहीं पता बांवरा

पाया वह न चाहा
चाहे वह न पाया
जिसके पीछे भागे
वह साया है रे साया
क्या क्या रास्ते ढूंढे
क्या क्या दुःख न पाया
पर साया तेहरा सोया
के हाथों में न आया
कोई सुबह जो मैं उठूं
तुझे अगर मिले सुकून बांवरा

गिनता रहता तारे
लौटूं में अंगारे
खुद से लड़ता फिरता
यह जग को ठोकर मारे
खींचे खींचे बैठे
बैठे बैठे भागे
न सुनता खुदके आगे
यह पागल हो गया रे
पाया वह न चाहा
चाहे वह न पाया
जिसके पीछे भागे
वह साया है रे साया
क्या क्या रास्ते ढूंढे
क्या क्या दुःख न पाया
पर साया तेहरा सोया
के हाथों में न आया

है ज़िन्दगी मुहाल क्यूँ
बना लिया यह हाल क्यों बता
उलझा उलझा रहता न
सुनता न कुछ कहता
सूनी सूनी आँखों
से रेहरेह पानी बहता
टूटे सारे नाते
हारा मैं समझते
बिछड़े दिन और साथी
फिर वापस नहीं आते
वापस नहीं आते
वापस नहीं आते

यह दर्द क्यों यह प्यास
क्यूँ फिरा करे उदास क्यों
यह रॉड क्यूँ तलाश क्यूँ
बता बांवरा

ठंडी आहें भरके
जीता है मर्मर के
कैसा रह गया है यह
दरिया से गुज़र के
धोखे से नज़र के
झोकें से उम्र के
रेत के महल सा देह
गया है बिखर के
ठंडी आहें भरके
जीता है मर्मर के
कैसा रह गया है यह
दरिया से गुज़र के
धोखे से नज़र के
झोकें से उम्र के
रेत के महल सा देह
गया है बिखर के

आए
मैं जागे जागे रे
मैं जागे जागे
जागे जागे बांवरा.

Mann Jaage Lyrics in English :

Mann jaage saari
Raat mera deewana
Mann maane na yeh
Baat ke woh tha begaana
Mann jaage saari
Raat mera deewana
Mann maane na yeh
Baat ke woh tha begaana
Hai khud se hi khafa khafa
Kya chahiye nahi pata banwara

Paaya woh na chaaha
Chaaha woh na paaya
Jiske peeche bhaage
Woh saaya hai re saaya
Kya kya raste dhoondhe
Kya kya dukh na paaya
Par saaya tehra saaya
Ke haathon mein na aaya
Koi subaah jo main uthoon
Tujhe agar mile sukoon banwara

Ginta rehta taare
Lotoon main angaare
Khud se ladta phirta
Yeh jag ko thokar maare
Kheenche kheenche baithe
Baithe baithe bhaage
Na sunta khudke aage
Yeh pagal ho gaya re
Paaya woh na chaaha
Chaaha woh na paaya
Jiske peeche bhaage
Woh saaya hai re saaya
Kya kya raste dhoondhe
Kya kya dukh na paaya
Par saaya tehra saaya
Ke haathon mein na aaya

Hai zindagi muhaal kyun
Bana liya yeh haal kyun bata
Uljha uljha rehta na
Sunta na kuch kehta
Sooni sooni aankhon
Se rehreh paani behta
Toote saare naate
Haara main samjhate
Bichde din aur saathi
Phir wapas nahi aate
Wapas nahi aate
Wapas nahi aate

Yeh dard kyun yeh pyaas
Kyun phira kare udaas kyun
Yeh rald kyun talaash kyun
Bata banwara

Thandi aahein bharke
Jeeta hai marmar ke
Kaisa reh gaya hai yeh
Dariya se guzar ke
Dhoke se nazar ke
Jhokein se umar ke
Raet ke mahal sa deh
Gaya hai bikhar ke
Thandi aahein bharke
Jeeta hai marmar ke
Kaisa reh gaya hai yeh
Dariya se guzar ke
Dhoke se nazar ke
Jhokein se umar ke
Raet ke mahal sa deh
Gaya hai bikhar ke

Aaa
Mann jaage jaage re
Mann jaage jaage
Jaage jaage banwara.

Leave a Reply

Your email address will not be published.