Song Name : Hamne Dekhi Duniya
Album / Movie : Bhola In Bollywood 2004
Star Cast : Siraj Khan, Bharti Sharma, Alok Nath, Avtar Gill, Raza Murad, Ajit Vachchani, Ali Asgar, Virendra Saxena, Raj Babbar, Suresh Chatwal, Shammi Kapoor, Vinod Khanna, Razzak Khan, Rajesh Puri
Singer : Sonu Nigam
Music Director : N/A

Hamne Dekhi Duniya Lyrics in Hindi Bhola In Bollywood 2004

Hamne Dekhi Duniya Lyrics in Hindi :

हमने देखि दुनिया देखा सारा ज़माना
हमने देखि दुनिया देखा सारा ज़माना
जो है हमने देखा तुमको भी है सुनना
जो है हमने देखा तुमको भी है सुनना
दो चीज़ों ने बना के रखा दुनिया को दीवाना
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण

युग युग की परंपरा है जो चलती आज तक ए
युग युग की परंपरा है जो चलती आज तक ए
अपने घर से भूखा कोई न जाने पाये
सबरी के बेर थे जूते पर श्रद्धा की वो सच्ची
सबरी के बेर थे जूते पर श्रद्धा की वो सच्ची
सुदामा की भी नियत गिरधर को लगी थी अछि
भिक्षुक की होती परीक्षा भला ऐसा कही है होता
पहाडोसी जो हो भूखा दिल अपना भी है रोटा
ये पेट से दिल का रास्ता ये जाने हर भयता
न खले जब तक स्वामी नहीं खाना मुँह में जाता
दिवाली की मिठाईया िद्द की मीठी सेवइयां
परदेश में देश के खाने कम कर देते है दूरिया
बचपन की यादें पुराणी हम सब की एक कहानी
वो माँ के हाथ का खाना जो लए मुँह में पानी
वो दादी माँ की सिगड़ी सर्दी में पके जो राबड़ी
और नानी माँ का खिलना वो असली घी में खिचड़ी
वो खेत में पीना लस्सी लस्सी पे मलाई मोती
सरसों के साग से खाना मक्के दी सोंधी रोटी
ये है ईबादत ये है पूजा इसको अदब से खाना
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण

लोरी सुनके माँ ने घुट्टी में स्वर उतरा
लोरी सुनके माँ ने घुट्टी में स्वर उतरा
संगीत की सांगत में जीवन है हमने गुजरा
कोई खुशी हो या गम संगीत हमेशा हरदम
कोई खुशी हो या गम संगीत हमेशा हरदम
गरबा है कही तो कही छम छम भरतनाट्यम
दुल्हन की उठे जब डोली या बृज भूमि की होली
छन छन चैंके घुँघरू और ढोल बजाये ढोली
जीवन के हर एक रास में संगीत ने रंग है डाला
वरदान मिला ये हमको मुरली सुने जब राधा
है कृष्ण की किस्मे लीला मीरा की किस्मे क्रीड़ा
ये बोले सकीय बोली है गोर की इसमें कविता
ग़ालिब की इसमें गजले वो संत कबीर के दोहे
और हीर की सुन के बोलो भला कोई क्यों न रोये
वो खुशरो की कवल्ली वो सुर व ताल व तली
तानसेन ने जलाया पानी बड़ी मीठी है गुरबानी
अजमेर की जा वो दरगाह या शिर्डी के साईं बाबा
सुरताल बहे सब गंगा गीतों में गीत रंग
सरे जहा ने अब ये मन इंडिया का है जमाना
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण

हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण
हिंदुस्तानी खाना हिंदुस्तानी गण.

Hamne Dekhi Duniya Lyrics in English :

Hamne dekhi duniya dekha sara zamana
Hamne dekhi duniya dekha sara zamana
Jo hai hamne dekha tumko bhi hai sunana
Jo hai hamne dekha tumko bhi hai sunana
Do cheezo ne bana ke rakha duniya ko deewana
Hindustani khana hindustani gana
Hindustani khana hindustani gana

Yug yug ki parampara hai jo chalti aj tak aye
Yug yug ki parampara hai jo chalti aj tak aye
Apne ghar se bhukha koi na jane paye
Sabri ke ber the juthe par sradha ki wo sachi
Sabri ke ber the juthe par sradha ki wo sachi
Sudama ki bhi niyat girdhar ko lagi thi achi
Bhikshuk ki hoti pariksha bhala aisa kahi hai hota
Phadosi jo ho bhukha dil apna bhi hai rota
Ye pet se dil ka rasta ye jane har bhayata
Na khale jab tak swami nahi khana muh mein jata
Diwali ki mithaiya idd ki mithi sewayiya
Pardesh mein desh ke khane kam kar dete hai duriya
Bachpan ki yade purani hum sab ki ek kahani
Wo maa ke hath ka khana jo laye muh mein pani
Wo dadi maa ki sigdi sardi mein pake jo rabdi
Or nani maa ka khilana wo asli ghee mein khichdi
Wo khet mein pina lassi lassi pe malayi moti
Sarso ke sag se khana makke di sondhi roti
Ye hai ibadat ye hai pooja isko adab se khana
Hindustani khana hindustani gana
Hindustani khana hindustani gana

Lori sunake maa ne ghutti mein swar utara
Lori sunake maa ne ghutti mein swar utara
Sangeet ki sangat mein jeevan hai hamne gujara
Koi khusi ho ya gum sangeet hamesha hardam
Koi khusi ho ya gum sangeet hamesha hardam
Garba hai kahi to kahi chham chham bharatnatyam
Dulhan ki uthe jab doli ya brij bhumi ki holi
Chan chan chanke ghunghru or dhol bajaye dholi
Jeevan ke har ek raas mein sangeet ne rang hai dala
Vardan mila ye hamko murli sune jab radha
Hai krishan ki kisme lila meera ki kisme krida
Ye bole saki boli hai gor ki isme kavita
Galib ki isme gajle wo sant kabir ke dohe
Or heer ki sun ke bolo bhala koi kyu na roye
Wo khusharo ki kawalli wo sur wo taal wo tali
Tansen ne jalaya pani badi mithi hai gurbani
Ajmer ki jaa wo dargah ya sirdi ke sai baba
Surtal bahe sab ganga geeto mein geet ranga
Sare jaha ne ab ye mana india ka hai jamana
Hindustani khana hindustani gana
Hindustani khana hindustani gana
Hindustani khana hindustani gana
Hindustani khana hindustani gana

Hindustani khana hindustani gana
Hindustani khana hindustani gana.

Leave a Reply

Your email address will not be published.