Aadmi Ki Zindagi Ka Lyrics in Hindi. आदमी की ज़िन्दगी का song from Bheegi Palkein 1982. It stars Raj Babbar, Smita Patil. Singer of Aadmi Ki Zindagi Ka is Asha Bhosle, Mohammed Rafi. Lyrics are written by M. G. Hashmat Music is given by Jugal Kishore, Tilak Raj

Song Name : Aadmi Ki Zindagi Ka
Album / Movie : Bheegi Palkein 1982
Star Cast : Raj Babbar, Smita Patil
Singer : Asha Bhosle, Mohammed Rafi
Music Director : Jugal Kishore, Tilak Raj
Lyrics by : M. G. Hashmat
Music Label : Universal

Aadmi Ki Zindagi Ka Lyrics in Hindi :

जवा जिस्मों के मिलन में
खुदाई आग होती है
है रूहानी वसल होता है
खुदाई बात होती है
कसम उल्फ़त की उल्फ़त से
गले मिलते हो जब मुझसे
तुम्हारे प्यार को पाकर
मेरी रूह पाक होती है
आदमी की ज़िन्दगी का
औरत नशा है
आदमी की ज़िन्दगी का
औरत नशा है
साथी वफादार हो तो
जीने का मज़ा है
हा साथी वफादार हो तो
जीने का मज़ा है
आदमी की ज़िन्दगी का
औरत नशा है

औरत की नज़रों में
शोहर खुदा है
औरत की नज़रों में
शोहर खुदा है
है प्यार मिले उसका तो
जीने का मज़ा है
प्यार मिले उसका तो
जीने का मज़ा है
औरत की नज़रों में
शोहर खुदा है

नमाज़े इश्क़ का आशिक़ हूँ
कलमा पढ़ने दे
हा हा कलमा पढ़ने दे
हंसी चेहरे को कबा मन के
सजदा करने दे
हा हा सज़दा करने दे
खुदाई नूर नज़र आये
तेरी नज़रों में
उसकी रोशनी में मुझको
आगे बढ़ने दे
है यह आगे बढ़ने दे
ऐसी बात है
औरत की उल्फत फरिश्ता बना दे
औरत की उल्फत फरिश्ता बना दे
खुदा की खुदाई से
रिश्ता बना दे
खुदा की खुदाई से
रिश्ता बना दे
वो चाहे तो इंसान को
इतना उठा दे
के िंसा का रुतबा
खुदा से मिला दे
खुदा से मिला दे

मोहब्बत में इनसे
खुदा से मिला है
मोहब्बत में इंसा हा हा
मोहब्बत में इनसे
खुदा से मिला है
मोहब्बत में इनसे
खुदा से मिला है
खुदा से मिला है
खुदा से मिला है
मोहब्बत में इनसे
खुदा से मिला है
हा हा साथी वफादार हो तो
जीने का मज़ा है
आदमी की ज़िन्दगी का
औरत नशा है

मोहब्बत मंदिर मस्जिद
गिरजों से ऊँची है
मोहब्बत ऊँची है
मोहब्बत की इबादत का
बना ले ज़िन्दगी को
सजा ले ज़िन्दगी को
दुआ करता हु मोला से के
जब तक साँस चले
बराबर जा भी राख पाव
हुस्न की बन्दगी को
इश्क़ की बंदगी को

मोहब्बत की दौलत
खुदा की खुदाई
मोहब्बत की दौलत
खुदा की खुदाई
जिसे मिल गयी बंदगी काम आयी
जिसे मिल गयी बंदगी काम आयी
न माई जी सकीय ज़िन्दगी भर
न वो जी सका ज़िन्दगी
न उसे मौत आयी
उसे मौत आयी

मोहब्बत बिना ज़िन्दगी
एक सजा है
मोहब्बत बिना हा हा
मोहब्बत बिना ज़िन्दगी
एक सजा है
मोहब्बत बिना ज़िन्दगी
एक सजा है
मोहब्बत बिना ज़िन्दगी
एक सजा है
है मोहब्बत बिना ज़िन्दगी
एक सजा है
हा साथी समझदार हो तो
जीने का मज़ा है
औरत की नज़रों में
शोहर खुदा है.

Aadmi Ki Zindagi Ka Lyrics in English :

Jawa jismo ke milne me
Khudayi aag hoti hai
Ha ruhani vasl hota hai
Khudayi baat hoti hai
Kasam ulfat ki ulfat se
Gale milte ho jab mujhse
Tumhare pyar ko pakar
Meri ruh pak hoti hai
Aadmi ki zindagi ka
Aurat nasha hai
Aadmi ki zindagi ka
Aurat nasha hai
Sathi wafadar ho to
Jine ka maza hai
Ha sathi wafadar ho to
Jine ka maza hai
Aadmi ki zindagi ka
Aurat nasha hai

Aurat ki nazaro me
Shohar khuda hai
Aurat ki nazaro me
Shohar khuda hai
Ha pyar mile uska to
Jine ka maza hai
Pyar mile uska to
Jine ka maza hai
Aurat ki nazaro me
Shohar khuda hai

Namaze ishq ka aashiq hu
Kalma padhne de
Ha ha kalma padhne de
Hansi chehare ko kaba man ke
Sazda karne de
Ha ha sazda karne de
Khudayi nur nazar aaye
Teri nazaro me
Usiki roshani me mujhko
Aage badhne de
Ha ah aage badhne de
Aisi baat hai
Aurta ki ulfat farishta bana de
Aurta ki ulfat farishta bana de
Khuda ki khudayi se
Rishta bana de
Khuda ki khudayi se
Rishta bana de
Wo chahe to insan ko
Itna utha de
Ke insa ka rutba
Khuda se mila de
Khuda se mila de

Mohabbta me insa
Khuda se mila hai
Mohabbta me insa ha ha
Mohabbta me insa
Khuda se mila hai
Mohabbta me insa
Khuda se mila hai
Khuda se mila hai
Khuda se mila hai
Mohabbta me insa
Khuda se mila hai
Ha ha sathi wafadar ho to
Jine ka maza hai
Aadmi ki zindagi ka
Aurat nasha hai

Mohabbat mandir masjid
Girjo se unchi hai
Mohabbat unchi hai
Mohabbat ki ibadat ka
Bana le zindagi ko
Saza le zindagi ko
Dua karta hu mola se ke
Jab tak sans chale
Barabar jaa bhi rakh pau
Husn ki bandgi ko
Ishq ki bandgi ko,

Mohabbta ki dolat
Khuda ki khudayi
Mohabbta ki dolat
Khuda ki khudayi
Jise mil gayi bandgi kam aayi
Jise mil gayi bandgi kam aayi
Na mai ji saki zindagi bhar
Na wo ji saka zindagi
Na use maut aayi
Use maut aayi

Mohabbat bina zindagi
Ek saza hai
Mohabbat bina ha ha
Mohabbat bina zindagi
Ek saza hai
Mohabbat bina zindagi
Ek saza hai
Mohabbat bina zindagi
Ek saza hai
Ha mohabbat bina zindagi
Ek saza hai
Ha sathi samjhdar ho to
Jine ka maza hai
Aurat ki nazaro me
Shohar khuda hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published.