Ab Yeh Bata Jaayen Lyrics in Hindi. अब यह बता जाएँ song from Baap Re Baap 1955. It stars Kishore Kumar, Chand Usmani, Smriti Biswas. Singer of Ab Yeh Bata Jaayen is Asha Bhosle. Lyrics are written by Jan Nisar Akhtar Music is given by Omkar Prasad Nayyar

Song Name : Ab Yeh Bata Jaayen
Album / Movie : Baap Re Baap 1955
Star Cast : Kishore Kumar, Chand Usmani, Smriti Biswas
Singer : Asha Bhosle
Music Director : Omkar Prasad Nayyar
Lyrics by : Jan Nisar Akhtar
Music Label : Saregama

Ab Yeh Bata Jaayen Lyrics in Hindi Baap Re Baap 1955

Ab Yeh Bata Jaayen Lyrics in Hindi :

अब यह बता जाएँ कहाँ
किस्मत के ठुकराए हुए
गम से घबराये हुए
जीने से उकसाये हुए
अब यह बता जाएँ कहाँ

राष्ट अनजान मंजिल का
पता कुछ भी नहीं
अपनी राह में अँधेरे के
सिवा कुछ भी नहीं

गम के है घनघोर बादल
दूर तक है छाये हुए
अब यह बता जाएँ कहाँ
यह बता जाएँ कहाँ
अब यह बता जाएँ कहाँ

अपने अरमानों का लूत ता
करवा देखा किये
आशिया जलता रहा हम
बेजुबा देखा किये

चाँद आँसु रह गए
पलकों पे थर्राये हुए
अब यह बता जाएँ कहाँ
यह बता जाएँ कहाँ
अब यह बता जाएँ कहाँ

क्या यही दुनिया है ऑय
दुनिया के राहकवले बता
क्या यही इंसाफ है ऑय
आसमा वाले बता
जी रहे है सैकड़ों
जीने से शर्माए हुए

अब यह बता जाएँ कहाँ
ये बता जाये कहाँ
अब यह बता जाएँ कहाँ

अब यह बता जाएँ कहाँ
कसिमत के ठुकराए हुए
गम से घबराये हुए
जीने से उकसाये हुए
अब यह बता जाएँ कहाँ.

Ab Yeh Bata Jaayen Lyrics in English :

Ab yeh bata jaayen kahan
Kismat ke thukraye hue
Gum se ghabraye hue
Jine se uksaye hue
Ab yeh bata jaayen kahan

Rashta anjan manzil ka
Pata kuchh bhi nahi
Apni rah me andhere ke
Siwa kuchh bhi nahi

Gum ke hai ghanghor badal
Dur tak hai chhaye hue
Ab yeh bata jaayen kahan
Yeh bata jaayen kahan
Ab yeh bata jaayen kahan

Apne armano ka lut ta
Karwa dekha kiye
Aashiya jalta raha hum
Bejuba dekha kiye

Chand aansu rah gaye
Palko pe tharraye hue
Ab yeh bata jaayen kahan
Yeh bata jaayen kahan
Ab yeh bata jaayen kahan

Kya yahi duniya hai eye
Duniya ke rahkwale bata
Kya yahi insaf hai eye
Aasma wale bata
Ji rahe hai saikdo
Jine se sharmaye hue

Ab yeh bata jaayen kahan
Ye bata jaye kahan
Ab yeh bata jaayen kahan

Ab yeh bata jaayen kahan
Ksimat ke thukraye hue
Gum se ghabraye hue
Jine se uksaye hue
Ab yeh bata jaayen kahan.

Leave a Reply

Your email address will not be published.