Farishtaa To Nahi Ham Lyrics in Hindi. फ़रिश्ता तो नहीं हम song from Bheegi Raat 1965. It stars Pradeep Kumar, Meena Kumari, Ashok Kumar, Kamini Kaushal, Shashikala, Rajendra Nath. Singer of Farishtaa To Nahi Ham is Mohammed Rafi, Suman Kalyanpur. Lyrics are written by Majrooh Sultanpuri Music is given by Roshanlal Nagrath (Roshan)

Song Name : Farishtaa To Nahi Ham
Album / Movie : Bheegi Raat 1965
Star Cast : Pradeep Kumar, Meena Kumari, Ashok Kumar, Kamini Kaushal, Shashikala, Rajendra Nath
Singer : Mohammed Rafi, Suman Kalyanpur
Music Director : Roshanlal Nagrath (Roshan)
Lyrics by : Majrooh Sultanpuri
Music Label : Saregama

Farishtaa To Nahi Ham Lyrics in Hindi Bheegi Raat 1965

Farishtaa To Nahi Ham Lyrics in Hindi :

ऐसे तो न देखो के
बहक जाए कही हम
आखिर को इक इंसान
है फ़रिश्ता तो नहीं हम
है ऐसे न कहो
बात के मर जाए यही हम
आखिर को इक इंसान
है फ़रिश्ता तो नहीं हम

अंगड़ाई सी लेती है जो
खुशबू भरी ज़ुल्फ़े
खुशबू भरी ज़ुल्फ़े
गिरती है तेरे सुर्ख
लबों पर तेरी जुल्फे
लबों पर तेरी जुल्फे
ज़ुल्फ़े न तेरी चुम
ले ऐ महजबीं हम
आखिर को इक इंसान
है फ़रिश्ता तो नहीं हम

सुन सुन के तेरी बात
नशा छाने लगा है
नशा छाने लगा है
खुद अपने पे भी प्यार
सा कुछ आने लगा है
आने लगा है
रखना है कही पाँव तो
रखना है कही पाँव तो
रखते है कही हम
आखिर को इक इनसा है
फ़रिश्ता तो नहीं हम

भीगा सा रूखे नाज़
ये हल्का सा पसीना
ये हल्का सा पसीना
हाय ये नाचती आँखों
के भवर दिल का सफीना
दिल का सफीना
सोचा है की अब डूब के
सोचा है की अब डूब के
रह जाए यही हम
आखिर को इक इनसा है
फ़रिश्ता तो नहीं हम
है ऐसे न कहो बात
के मर जाए यही हम
आखिर को इक इंसान है
फ़रिश्ता तो नहीं हम.

Farishtaa To Nahi Ham Lyrics in English :

Aise to na dekho ke
Bahak jaae kahi ham
Aakhir ko ik insaan
Hai farishtaa to nahi ham
Haay aise na kaho
Baat ke mar jaae yahi ham
Aakhir ko ik insaan
Hai farishtaa to nahi ham

Agadaai si leti hai jo
Khushabu bhari zulfe
Khushabu bhari zulfe
Girati hai tere surkh
Labo par teri zulfe
Labo par teri zulfe
Zulfe na teri chum
Le ai mahajabi ham
Aakhir ko ik insaan
Hai farishtaa to nahi ham

Sun sun ke teri baat
Nashaa chhaane lagaa hai
Nashaa chhaane lagaa hai
Khud apane pe bhi pyaar
Saa kuch aane lagaa hai
Aane lagaa hai
Rakhanaa hai kahi paanv to
Rakhanaa hai kahi paanv to
Rakhate hai kahi ham
Aakhir ko ik inasaa hai
Farishtaa to nahi ham

Bheega sa rukhe naaz
Ye halka sa pasina
Ye halka sa pasina
Haay ye naachti aankho
Ke bhawar dil ka safina
Dil ka safina
Socha hai ki ab doob ke
Socha hai ki ab doob ke
Rah jaaye yahi ham
Aakhir ko ik inasaa hai
Farishtaa to nahi ham
Haay aise na kaho baat
Ke mar jaae yahi ham
Aakhir ko ik insaan hai
Farishtaa to nahi ham.

Leave a Reply

Your email address will not be published.