Haq Mangate Hai Apne Pasine Ka Lyrics in Hindi from Baap Bete

Haq Mangate Hai Apne Pasine Ka Lyrics in Hindi. हक़ मांगते है अपने पसीने का song from Baap Bete. It stars Ashok Kumar, Lalita Pawar. Singer of Haq Mangate Hai Apne Pasine Ka is Mohammed Rafi. Lyrics are written by Rajendra Krishan Music is given by Madan Mohan Kohli

Song Name : Haq Mangate Hai Apne Pasine Ka
Album / Movie : Baap Bete
Star Cast : Ashok Kumar, Lalita Pawar
Singer : Mohammed Rafi
Music Director : Madan Mohan Kohli
Lyrics by : Rajendra Krishan
Music Label : Saregama

Haq Mangate Hai Apne Pasine Ka Lyrics in Hindi Baap Bete

Haq Mangate Hai Apne Pasine Ka Lyrics in Hindi :

हक़ मांगते है अपने पसीने का
अधिकार हमें भी है जीने का
हक़ मांगते है अपने पसीने का
अधिकार हमें भी है जीने का
हक़ मांगते है अपने पसीने का

तुम लाख अमीरो ऐश करो
हम देख तुम्हे कब जलते है
हम देख तुम्हे कब जलते है
साये में तुम्हारे महलो के
लेकिन कितने गम पालते है
देखो तो नज़ारा आके कभी
हक़ मांगते है अपने पसीने का
अधिकार हमें भी है जीने का
हक़ मांगते है अपने पसीने का

मेहनत पे हमारी ही तुमने ये
शीशमहल है खड़ा किया
शीशमहल है खड़ा किया
तुम जिनको छोटा कहते हो
इन चोटों ने तुमको बड़ा किया
क्यों साल के पीछे चुभता है
फिर बोनस एक महीने का
हक़ मांगते है अपने पसीने का
अधिकार हमें भी है जीने का
हक़ मांगते है अपने पसीने का

तुम खुद भी जियो और जीने दो
है मांग यही मज़दूरों की
है मांग यही मज़दूरों की
इन्साफ करो इन्साफ़ करो
अब आह न लो मज़दूरों की
शोला न कही बनकर भड़के
अब तक जो धुआँ है सीने का
हक़ मांगते है अपने पसीने का
अधिकार हमें भी है जीने का
हक़ मांगते है अपने पसीने का
अधिकार हमें भी है जीने का
हक़ मांगते है अपने पसीने का.

Haq Mangate Hai Apne Pasine Ka Lyrics in English :

Haq mangte hai apne pasine ka
Adhikar hame bhi hai jine ka
Haq mangte hai apne pasine ka
Adhikar hame bhi hai jine ka
Haq mangte hai apne pasine ka

Tum lakh amiro aish karo
Ham dekh tumhe kab jalte hai
Ham dekh tumhe kab jalte hai
Saye me tumhare mahlo ke
Lekin kitne gam palte hai
Dekho to nazara aake kabhi
Haq mangte hai apne pasine ka
Adhikar hame bhi hai jine ka
Haq mangte hai apne pasine ka

Mehant pe hamari hi tumne ye
Shishmahal hai khada kiya
Shishmahal hai khada kiya
Tum jinko chota kahte ho
In choto ne tumko bada kiya
Kyu sal ke piche chubhta hai
Phir bonas ek mahine ka
Haq mangte hai apne pasine ka
Adhikar hame bhi hai jine ka
Haq mangte hai apne pasine ka

Tum khud bhi jiyo aur jine do
Hai mang yahi mazaduro ki
Hai mang yahi mazaduro ki
Insaaf karo insaf karo
Ab aah na lo mazduro ki
Shola na kahi bankar bhadke
Ab tak jo dhua hai sine ka
Haq mangte hai apne pasine ka
Adhikar hame bhi hai jine ka
Haq mangte hai apne pasine ka
Adhikar hame bhi hai jine ka
Haq mangte hai apne pasine ka.

Leave a Comment

Your email address will not be published.