Kahi Se Koi Rashta Mil Gaya Lyrics in Hindi. कही से कोई रिश्ता मिल गया song from Bhoola Bhatka. It stars Kiran Kumar, Usha Solanki, Aruna Irani, Akashdeep, Bhagwan, Jankidas, Jagdish Raaj. Singer of Kahi Se Koi Rashta Mil Gaya is Asha Bhosle. Lyrics are written by Anand Bakshi Music is given by Anandji Virji Shah, Kalyanji Virji Shah

Song Name : Kahi Se Koi Rashta Mil Gaya
Album / Movie : Bhoola Bhatka
Star Cast : Kiran Kumar, Usha Solanki, Aruna Irani, Akashdeep, Bhagwan, Jankidas, Jagdish Raaj
Singer : Asha Bhosle
Music Director : Anandji Virji Shah, Kalyanji Virji Shah
Lyrics by : Anand Bakshi
Music Label : Saregama

Kahi Se Koi Rashta Mil Gaya Lyrics in Hindi Bhoola Bhatka

Kahi Se Koi Rashta Mil Gaya Lyrics in Hindi :

गज़ब हो गया अज़ाब हो गया
ये रुस्वाइव का सबब हो गया
कही से कोई
कही से कोई रिश्ता मिल गया
कही से कोई रिश्ता मिल गया
उसे मेरे घर का पता मिल गया
पता मिल गया
कही से कोई रिश्ता मिल गया
उसे मेरे घर का पता मिल गया
पता मिल गया
कही से कोई रिश्ता मिल गया

पसीना मुझे
आ गया शर्म से
न पूछो जो इस दिल की हालत हुई
न पूछो जो इस दिल की हालत हुई
क़यामत से पहले क़यामत हुई
क़यामत से पहले क़यामत हुई
किसी गैर के अजनबी नाम का
किसी गैर के अजनबी नाम का
मेरे नाम का सिलसिला मिल गया
कही से कोई रिश्ता मिल गया
कही से कोई रिश्ता मिल गया
उसे मेरे घर का पता मिल गया
पता मिल गया
कही से कोई रिश्ता मिल गया

ये पर्दा मेरे कल आया नहीं
कहा हु किधर हु न वो जान ले
कहा हु किधर हु न वो जान ले
कही मेरी सूरत न पहचान ले
कही मेरी सूरत न पहचान ले
बुझा कर शमा
छुप गयी मै मगर
बुझा कर शमा
छुप गयी मै मगर
कही से उसे एक दिया मिल गया
पता मिल गया
कही से कोई रिश्ता मिल गया
कही से कोई रिश्ता मिल गया
उसे मेरे घर का पता मिल गया.

Kahi Se Koi Rashta Mil Gaya Lyrics in English :

Gazab ho gaya azab ho gaya
Ye ruswaio ka sabab ho gaya
Kahi se koi
Kahi se koi rashta mil gaya
Kahi se koi rashta mil gaya
Use mere ghar ka pata mil gaya
Pata mil gaya
Kahi se koi rashta mil gaya
Use mere ghar ka pata mil gaya
Pata mil gaya
Kahi se koi rashta mil gaya

Pasina mujhe
Aa gaya sharam se
Na pucho jo is dil ki halat hui
Na pucho jo is dil ki halat hui
Kayamat se pahle kayamat hui
Kayamat se pahle kayamat hui
Kisi gair ke ajnabi naam ka
Kisi gair ke ajnabi naam ka
Mere nam ka silsila mil gaya
Kahi se koi rashta mil gaya
Kahi se koi rashta mil gaya
Use mere ghar ka pata mil gaya
Pata mil gaya
Kahi se koi rashta mil gaya

Ye parda mere kal aaya nahi
Kaha hu kidhar hu na wo jan le
Kaha hu kidhar hu na wo jan le
Kahi meri surat na pahchan le
Kahi meri surat na pahchan le
Bujha kar shama
Chup gayi mai magar
Bujha kar shama
Chup gayi mai magar
Kahi se use ek diya mil gaya
Pata mil gaya
Kahi se koi rashta mil gaya
Kahi se koi rashta mil gaya
Use mere ghar ka pata mil gaya.

Leave a Reply

Your email address will not be published.