Kho Gaye Hum Kahan Lyrics in Hindi. खो गए हम कहाँ song from Baar Baar Dekho 2016. It stars Katrina Kaif, Sidharth Malhotra. Singer of Kho Gaye Hum Kahan is Jasleen Kaur Royal, Prateek Kuhad. Lyrics are written by Prateek Kuhad Music is given by Jasleen Kaur Royal

Song Name : Kho Gaye Hum Kahan
Album / Movie : Baar Baar Dekho 2016
Star Cast : Katrina Kaif, Sidharth Malhotra
Singer : Jasleen Kaur Royal, Prateek Kuhad
Music Director : Jasleen Kaur Royal
Lyrics by : Prateek Kuhad
Music Label : Zee Music Company

Kho Gaye Hum Kahan Lyrics in Hindi Baar Baar Dekho 2016

Kho Gaye Hum Kahan Lyrics in Hindi :

रूह से बहती हुई धुन ये इशारे दे
कुछ मेरे राज़ तेरे राज़ आवारा से

खो गए हम कहाँ
रंगों से ये जहाँ
खो गए हम कहाँ
रंगों से ये जहाँ

टेढ़े-मेढ़े रास्ते हैं
जादुई इमारतें हैं
मैं भी हूँ
तू भी है यहाँ

खोयी सोयी सड़को पे
सितारों के कन्धों पे
हम नाचते उड़ते हैं यहाँ

खो गए हम कहाँ
रंगों से ये जहाँ
खो गए हम कहाँ
रंगों से ये जहाँ

ो ू…

सो गयी हैं ये साँसें सभी
अधूरी सी है कहानी मेरी

फिसल जाएं भी तोह डर न कोई
रुक जाने की ज़रुरत नहीं

कागज़ के परदे हैं
ताले हैं दरवाज़ों पे
पानी में डूबे हुवे
ख्वाब अल्फ़ाज़ों के

खो गए हम कहाँ
रंगों से ये जहाँ
खो गए हम कहाँ
रंगों से ये जहाँ

टेढ़े-मेढ़े रास्ते हैं
जादुई इमारतें हैं
मैं भी हूँ
तू भी है यहाँ

खोयी-सोयी सड़को पे
सितारों के कन्धों पे
हम नाचते उड़ते हैं यहाँ

ू…हम्म…

Kho Gaye Hum Kahan Lyrics in English :

Rooh se behti hui dhun ye ishare de
Kuch mere raaz tere raaz aawara se

Kho gaye hum kahan
Rangon sa ye jahan
Kho gaye hum kahan
Rangon sa ye jahan

Tedhe-medhe raaste hain
Jaadui imaaratein hain
Main bhi hoon
Tu bhi hai yahan

Khoyi soyi sadko pe
Sitaron ke kandhon pe
Hum naachte udte hain yahan

Kho gaye hum kahan
Rangon sa ye jahan
Kho gaye hum kahan
Rangon sa ye jahan

O oo…

So gayi hain ye saansein sabhi
Adhoori si hai kahaani meri

Phisal jaayein bhi toh darr na koi
Ruk jaane ki zaroorat nahi

Kaagaz ke parde hain
Taale hain darwazon pe
Paani mein doobe huve
Khwaab alfazon ke

Kho gaye hum kahan
Rangon sa ye jahan
Kho gaye hum kahan
Rangon sa ye jahan

Tedhe-medhe raaste hain
Jaadui imaratein hain
Main bhi hoon
Tu bhi hai yahan

Khoyi-soyi sadko pe
Sitaron ke kandhon pe
Hum naachte udte hain yahan

Oo…hmm…

Leave a Reply

Your email address will not be published.