Kitabein Bahut Si Lyrics in Hindi from Baazigar (1993)

Kitabein Bahut Si Lyrics in Hindi. किताबें बहुत सी song from Baazigar 1993. It stars Shahrukh Khan, Kajol, Siddharth Ray, Shilpa Shetty, Rakhee. Singer of Kitabein Bahut Si is Asha Bhosle, Vinod Rathod. Lyrics are written by Zafar Gorakhpuri Music is given by Anu Malik

Song Name : Kitabein Bahut Si
Album / Movie : Baazigar 1993
Star Cast : Shahrukh Khan, Kajol, Siddharth Ray, Shilpa Shetty, Rakhee
Singer : Asha Bhosle, Vinod Rathod
Music Director : Anu Malik
Lyrics by : Zafar Gorakhpuri
Music Label : Venus Music

Kitabein Bahut Si Lyrics in Hindi Baazigar 1993

Kitabein Bahut Si Lyrics in Hindi :

किताबें बहुत सी पढ़ी होंगी तुमने
मगर कोई चेहरा भी तुमने पढ़ा है
पढ़ा है मेरी जान नज़र से पढ़ा है
बता मेरे चेहरे पे क्या क्या लिखा है
किताबें बहुत सी पढ़ी होंगी तुमने
मगर कोई चेहरा भी तुमने पढ़ा है
पढ़ा है मेरी जान नज़र से पढ़ा है
बता मेरे चेहरे पे क्या क्या लिखा है

उमंगें लिखी हैं जवानी लिखी हैं
तेरे दिल की सारी कहानी लिखी हैं
उमंगें लिखी हैं जवानी लिखी हैं
तेरे दिल की सारी कहानी लिखी हैं
कहीं हाले दिल भी बताता है चेहरा
न बोलो तो फिर भी बताता है चेहरा
ये चेहरा हक़ीक़त में एक आईना है
बता मेरे चेहरे पे क्या क्या लिखा है
किताबें बहुत सी पढ़ी होंगी तुमने
मगर कोई चेहरा भी तुमने पढ़ा है
पढ़ा है मेरी जान नज़र से पढ़ा है
बता मेरे चेहरे पे क्या क्या लिखा है

अगर हम कहें हमको उल्फ़त नहीं है
कहोगी फिर कैसे मोहब्बत नहीं है
अगर हम कहें हमको उल्फ़त नहीं है
कहोगी फिर कैसे मोहब्बत नहीं है
बारे आये चेहरे पे ये मरने वाले
दिखावे का ऐहडे वफ़ा करने वाले
दिखावा नहीं प्यार की इम्तहां है
बता मेरे चेहरे पे क्या क्या लिखा है
किताबें बहुत सी पढ़ी होंगी तुमने
मगर कोई चेहरा भी तुमने पढ़ा है
पढ़ा है मेरी जान नज़र से पढ़ा है
बता मेरे चेहरे पे क्या क्या लिखा है.

Kitabein Bahut Si Lyrics in English :

Kitaben bahut si padhi hongi tumne
Magar koi chehra bhi tumne padha hai
Padha hai meri jaan nazar se padha hai
Bata mere chehre pe kya kya likha hai
Kitaben bahut si padhi hongi tumne
Magar koi chehra bhi tumne padha hai
Padha hai meri jaan nazar se padha hai
Bata mere chehre pe kya kya likha hai

Umange likhi hain jawani likhi hain
Tere dil ki saari kahani likhi hain
Umange likhi hain jawani likhi hain
Tere dil ki saari kahani likhi hain
Kahin haale dil bhi batata hai chehra
Na bolo to phir bhi batata hai chehra
Ye chehra haqiqat mein ek aayina hai
Bata mere chehre pe kya kya likha hai
Kitaben bahut si padhi hongi tumne
Magar koi chehra bhi tumne padha hai
Padha hai meri jaan nazar se padha hai
Bata mere chehre pe kya kya likha hai

Agar hum kahen humko ulfat nahin hai
Kahogi phir kaise mohabbat nahi hai
Agar hum kahen humko ulfat nahin hai
Kahogi phir kaise mohabbat nahi hai
Bare aaye chehre pe ye marne waale
Dikhawe ka aihde wafa karne waale
Dikhawa nahi pyar ki imtahaan hai
Bata mere chehre pe kya kya likha hai
Kitaben bahut si padhi hongi tumne
Magar koi chehra bhi tumne padha hai
Padha hai meri jaan nazar se padha hai
Bata mere chehre pe kya kya likha hai.

Leave a Comment

Your email address will not be published.