Main Zindagi Mein Hardam Rota Lyrics in Hindi. मैं ज़िन्दगी में हरदम रोटा song from Barsaat 1949. It stars Nargis, Raj Kapoor, Prem Nath, K.N. Singh, Cuckoo, Nimmi. Singer of Main Zindagi Mein Hardam Rota is Mohammed Rafi. Lyrics are written by Hasrat Jaipuri Music is given by Jaikishan Dayabhai Panchal, Shankar Singh Raghuvanshi

Song Name : Main Zindagi Mein Hardam Rota
Album / Movie : Barsaat 1949
Star Cast : Nargis, Raj Kapoor, Prem Nath, K.N. Singh, Cuckoo, Nimmi
Singer : Mohammed Rafi
Music Director : Jaikishan Dayabhai Panchal, Shankar Singh Raghuvanshi
Lyrics by : Hasrat Jaipuri
Music Label : Saregama

Main Zindagi Mein Hardam Rota Lyrics in Hindi Barsaat 1949

Main Zindagi Mein Hardam Rota Lyrics in Hindi :

मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ
रोता ही रहा हूँ
तड़पता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ

उम्मीद के दिए बुझे
दिल में है अंधेरा
उम्मीद के दिए बुझे
दिल में है अंधेरा
जीवन का साथी न
बना कोई भी मेरा
जीवन का साथी न
बना कोई भी मेरा
फिर किसके लिए
फिर किसके लिए आज
मैं जीता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ

रह-राह के हँसा है
मेरी हालत पे ज़माना
रह-राह के हँसा है
मेरी हालत पे ज़माना
क्या दुख है मुझे ये
तो किसी ने भी न जाना
क्या दुख है मुझे ये
तो किसी ने भी न जाना
खामोश
खामोश मोहब्बत लिए
फिरता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ

आई न मुझे रास
मोहब्बत की फिज़ाये
आई न मुझे रास
मोहब्बत की फिज़ाये
शरमाई मेरी आँख
से सावन की घटाए
शरमाई मेरी आँख
से सावन की घटाए
लहरों में सदा
लहरों में सदा गम को
बहाता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ
रोता ही रहा हूँ
तड़पता ही रहा हूँ
मैं ज़िन्दगी में हरदम
रोता ही रहा हूँ.

Main Zindagi Mein Hardam Rota Lyrics in English :

Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon
Rota hi raha hoon
Tadpata hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon

Ummid ke diye bujhe
Dil mein hai adheraa
Ummid ke diye bujhe
Dil mein hai adheraa
Jeevan kaa saathi na
Bana koi bhi meraa
Jeevan kaa saathi na
Bana koi bhi meraa
Phir kisake liye
Phir kisake liye aaj
Main jitaa hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon

Rah-rah ke hansaa hai
Meri haalat pe zamana
Rah-rah ke hansaa hai
Meri haalat pe zamana
Kyaa dukh hai mujhe ye
To kisi ne bhi na jaana
Kyaa dukh hai mujhe ye
To kisi ne bhi na jaana
Kaamosh
Kaamosh mohabbat liye
Phirataa hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon

Aai na mujhe raas
Mohabbat ki phizaaye
Aai na mujhe raas
Mohabbat ki phizaaye
Sharamaai meri aankh
Se saavan ki ghataae
Sharamaai meri aankh
Se saavan ki ghataae
Laharo mein sadaa
Laharo mein sadaa gam ko
Bahaataa hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon
Rota hi raha hoon
Tadpata hi raha hoon
Main zindagi mein hardum
Rota hi raha hoon.

Leave a Reply

Your email address will not be published.