Pandra Se Satrah Ke Beech Lyrics in Hindi. पन्द्र से सत्रह के बीच song from Badnaam. It stars null. Singer of Pandra Se Satrah Ke Beech is Anuradha Paudwal. Lyrics are written by Sameer Music is given by Ajay Swami

Song Name : Pandra Se Satrah Ke Beech
Album / Movie : Badnaam
Star Cast : null
Singer : Anuradha Paudwal
Music Director : Ajay Swami
Lyrics by : Sameer
Music Label : T-Series

Pandra Se Satrah Ke Beech Lyrics in Hindi Badnaam

Pandra Se Satrah Ke Beech Lyrics in Hindi :

हो हो फूलों ने कहाँ नज़रों ने कहाँ
सावन में नाचते पुहारो ने कहाँ ओ ओ
बादलों की उठती कतरो ने कहा
नादिया की लहरों से किनारो ने कहाँ
सपनो में आके सच रब ने कहाँ
सब ने कहाँ ये हैं सबने कहाँ हो
हो बड़ा ही अनोखा हैं बड़ा ही कमाल है
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
बड़ा ही अनोखा हैं बड़ा ही कमाल है
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
बड़ा ही अनोखा हैं बड़ा ही

आँखों में भरे हैं आज
मीठे मीठे सपने
कुछ हैं बेगाने और कुछ मेरे अपने
आँखों में भरे हैं आज
मीठे मीठे सपने
कुछ हैं बेगाने और कुछ मेरे अपने
चूड़ियों से गीत बजे पायल से ताल है
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
बड़ा ही अनोखा हैं बड़ा ही

आँचल में बसंत हैं झोली में बहार
फूल फूल काली काली करें मुझे प्यार
आँचल में बसंत हैं झोली में बहार
फूल फूल काली काली करें मुझे प्यार
जी चाहें कोई आके पूछे मेरा हाल है
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
बड़ा ही अनोखा हैं बड़ा ही

अंग अंग मेरा अब टूट टूट जाए
शीशा भी देखो तो मुझे सरम आये
अंग अंग मेरा अब टूट टूट जाए
शीशा भी देखो तो मुझे सरम आये
बदल हैं रंग मेरे बदली हैं चाल है
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
हो बड़ा ही अनोखा हैं बड़ा ही कमाल है
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय
पन्द्र से सत्रह के बीच साल होय हो हो.

Pandra Se Satrah Ke Beech Lyrics in English :

Ho ho phoolo ne kahan nazaron ne kahan
Saawan mein nachte puharo ne kahan o o
Baadalo ki uthati kataro ne kaha
Nadiya ki leharo se kinaro ne kahan
Sapno mein aake sach rab ne kahan
Sab ne kahan ye hain sabne kahan ho
Ho bada hi anokha hain bada hi kamaal haay
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Bada hi anokha hain bada hi kamaal haay
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Bada hi anokha hain bada hi

Aankho mein bhare hain aaj
Meethe meethe sapane
Kuch hain begane aur kuch mere apne
Aankho mein bhare hain aaj
Meethe meethe sapane
Kuch hain begane aur kuch mere apne
Chudiyo se geet baje paayal se taal haay
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Bada hi anokha hain bada hi

Aachal mein basant hain jholi mein bahar
Phool phool kali kali karein mujhe pyaar
Aachal mein basant hain jholi mein bahar
Phool phool kali kali karein mujhe pyaar
Jee chahein koi aake puchhe mera haal haay
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Bada hi anokha hain bada hi

Ang ang mera ab tut tut jaaye
Seesha bhi dekhu to mujhe saram aaye
Ang ang mera ab tut tut jaaye
Seesha bhi dekhu to mujhe saram aaye
Badal hain rang mere badli hain chaal haay
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Ho bada hi anokha hain bada hi kamaal haay
Pandra se satrah ke beech saal hoy
Pandra se satrah ke beech saal hoy ho ho.

Leave a Reply

Your email address will not be published.