Rangin Fiza Hai Lyrics in Hindi. रंगीन फ़िज़ा है song from Bahu Beti 1965. It stars Mala Sinha, Joy Mukherjee. Singer of Rangin Fiza Hai is Asha Bhosle, Mahendra Kapoor. Lyrics are written by Sahir Ludhianvi Music is given by Ravi Shankar Sharma (Ravi)

Song Name : Rangin Fiza Hai
Album / Movie : Bahu Beti 1965
Star Cast : Mala Sinha, Joy Mukherjee
Singer : Asha Bhosle, Mahendra Kapoor
Music Director : Ravi Shankar Sharma (Ravi)
Lyrics by : Sahir Ludhianvi
Music Label : Saregama

Rangin Fiza Hai Lyrics in Hindi :

रंगीन फ़िज़ा है
रंगीन फ़िज़ा है
आजा के मेरा प्यार
तुझे ढूंढ रहा है
रंगीन फ़िज़ा है

ये किसकी सदा है
ये किसकी सदा है
ये कौन मुझे अपनी
तरफ खींच रहा है
ये किसकी सदा है

तेरी भी है ये मेरी ही
आवाज़ नहीं है
तेरी भी है ये मेरी ही
आवाज़ नहीं है
ए जाने तमन्ना
ये कोई राज़ नहीं है
तू मुझसे जुदा होके भी
कब मुझसे जुदा है
दिल दिल से मिला है
ये कौन मुझे अपनी
तरफ खींच रहा है
ये किसकी सदा है

तुम मुझको बुलाते
हो तो टाला नहीं जाता
तुम मुझको बुलाते
हो तो टाला नहीं जाता
अपने को किसी तरह
संभाला नहीं जाता
जुल्फों का मुझसे होश
न ाचल का पता है
ये कैसा नशा है
आजा के मेरा
तुझे ढूंढ रहा है
रंगीन फ़िज़ा है

दुनिआ को भुला कर
मेरी बाहों में चली आ
दुनिआ को भुला कर
मेरी बाहों में चली आ
जज्बात की बेफिक्र
पनाहो में चली आ
कहते है जिसे इश्क
वो जीने की ऐडा है
अच्छा न बुरा है
ये कौन मुझे अपनी
तरफ खींच रहा है
ये किसकी सदा है
आजा के मेरा प्यार
तुझे ढूंढ रहा है
रंगीन फ़िज़ा है.

Rangin Fiza Hai Lyrics in English :

Rangin fiza hai
Rangin fiza hai
Aaja ke mera pyar
Tujhe dhund raha hai
Rangin fiza hai

Ye kiski sada hai
Ye kiski sada hai
Ye kaun mujhe apni
Taraf khich raha hai
Ye kiski sada hai

Teri bhi hai ye meri hi
Aawaz nahi hai
Teri bhi hai ye meri hi
Aawaz nahi hai
Aye jane tamanna
Ye koi raz nahi hai
Tu mujhse juda hoke bhi
Kab mujhse juda hai
Dil dil se mila hai
Ye kaun mujhe apni
Taraf khich raha hai
Ye kiski sada hai

Tum mujhko bulate
Ho to tala nahi jata
Tum mujhko bulate
Ho to tala nahi jata
Apne ko kisi tarah
Sambhala nahi jata
Julfo ka mujhse hosh
Na aachal ka pata hai
Ye kaisa nasha hai
Aaja ke mera
Tujhe dhund raha hai
Rangin fiza hai

Dunia ko bhula kar
Meri baho me chali aa
Dunia ko bhula kar
Meri baho me chali aa
Jajbat ki befikar
Panaho me chali aa
Kahte hai jise ishk
Wo jine ki ada hai
Acha na bura hai
Ye kaun mujhe apni
Taraf khich raha hai
Ye kiski sada hai
Aaja ke mera pyar
Tujhe dhund raha hai
Rangin fiza hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published.