Aawaaz De Kahan Hai Lyrics-Noor Jehan, Surendra, Anmol Ghadi

Title : आवाज़ दे कहाँ है
Movie/Album- अनमोल घड़ी -1946
Music By- नौशाद
Lyrics By- तनवीर नकवी
Singer(s)- नूर जहां, सुरेन्द्र कुमार

आवाज़ दे कहाँ है
दुनिया मेरी जवां है
आबाद मेरे दिल में उम्मीद का जहां है
दुनिया मेरी जवां है…

आ रात जा रही है
यूँ जैसे चांदनी की
बारात जा रही है
चलने को अब फलक से
तारों का कारवाँ है
ऐसे में तू कहाँ है
दुनिया मेरी जवां है…

किस्मत पे छा रही है
क्यों रात की स्याही
वीरान है मेरी नींदें
तारों से ले गवाही
बर्बाद मैं यहाँ हूँ
आबाद तू कहाँ है
बेदर्द आसमां है…

आवाज़ दे कहाँ है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *