Awaara Hoon Lyrics Mukesh, Awaara-आवारा हूँ

Movie/Album: आवारा (1951)
Music By: शंकर-जयकिशन
Lyrics By: शैलेन्द्र
Performed By: मुकेश

आवारा हूँ या गर्दिश में हूँ
आसमान का तारा हूँ

घर-बार नहीं, संसार नहीं
मुझसे किसी को प्यार नहीं
उस पार किसी से मिलने का इकरार नहीं
मुझसे किसी को प्यार नहीं
अनजान नगर सुनसान डगर का प्यारा हूँ
आवारा हूँ…

आबाद नहीं, बर्बाद सही
गाता हूँ खुशी के गीत मगर
ज़ख्मों से भरा सीना है मेरा
हँसती है मगर ये मस्त नज़र
दुनिया मैं तेरे तीर का
या तक़दीर का मारा हूँ
आवारा हूँ…

See also  Bhay Bhanjana Bandana Lyrics

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *