Title- बेकरार-ए-दिल
Movie/Album- दूर का राही Lyrics-1971
Music By- किशोर कुमार
Lyrics- ए.इरशाद
Singer(s)- किशोर कुमार, सुलक्षणा पंडित

बेकरार-ए-दिल तू गाये जा
खुशियों से भरे वो तराने
जिन्हें सुन के दुनियाँ झूम उठे
और झूम उठे दिल दीवाने
बेकरार-ए-दिल तू…

राग हो कोई मिलन का
सुख से भरी सरगम का
युग-युग के बंधन का
साथ हो लाखों जनम का
ऐसे ही बहारें गाती रहें
और सजते रहें वीराने
जिन्हें सुन के…

रात यूँ ही थम जायेगी
रुत ये हसीं मुस्काएगी
बँधी कली खिल जायेगी
और शबनम शरमायेगी
प्यार के वो ऐसे नगमें
जो बन जाएँ अफ़साने
जिन्हें सुन के…

दर्द में डूबी धून हो
सीने में एक सुलगन हो
साँसों में हलकी चुभन हो
सहमी हुई धड़कन हो
दोहराते रहें बस गीत नये
दुनियाँ से रहें बेगाने
जिन्हें सुन के…

See also  Jo Tumko Ho Pasand Lyrics-Mukesh, Safar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *