Chhup Gaye Saare Nazaare -Md.Rafi, Lata Mangeshkar, Do Raaste

Title : छुप गये सारे नज़ारे
Movie/Album/Film: दो रास्ते -1969
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics : आनंद बक्षी
Singer(s): मो.रफ़ी, लता मंगेशकर

छुप गये सारे नज़ारे, ओये क्या बात हो गयी
तूने काजल लगाया, दिन में रात हो गई
मिल गये नैना से नैना, ओये क्या बात हो गयी
दिल ने दिल को पुकारा, मुलाक़ात हो गयी

कल नहीं आना, मुझे ना बुलाना
कि मारेगा ताना ज़माना
तेरे होठों पे रात ये बहाना था
गोरी तुझको तो आज नहीं आना था
तू चली आई दुहाई, ओये क्या बात हो गयी
मैंने छोड़ा ज़माना, तेरे साथ हो गयी
तूने काजल लगाया…

अम्बवा की डाली पे गाए मतवाली
कोयलिया काली निराली
सावन आने का कुछ मतलब होगा
बादल छाने का कोई सबब होगा
रिमझिम छाए घटाएँ, ओये क्या बात हो गयी
तेरी चुनरी लहराई, बरसात हो गयी
दिल ने दिल को…

छोड़ ना बैयाँ, पडूँ तेरे पईयां
तारों की छैय्याँ में सईयाँ
इक वो दिन था मिलाती ना थी तू अँखियाँ
इक ये दिन तू जागे सारी-सारी रतियाँ
बन गयी गोरी चकोरी, ओये क्या बात हो गयी
जिसका डर था बेदर्दी, वही बात हो गयी
छुप गये सारे नज़ारे..

Leave a Comment

Your email address will not be published.