Hum Kaale Hain To Kya Hua -Rafi, Mehmood, Gumnaam

Title : हम काले हैं तो क्या
Movie/Album/Film: गुमनाम -1965
Music By: शंकर-जयकिशन
Lyrics : शैलेन्द्र
Singer(s): मो.रफ़ी, महमूद

ख़्यालों में, ख़्यालों में
ख़्यालों में, ख़्यालों में
जय हंगामा
कहाँ भाग रही तुमें?
या अल्लाह, काले से डर गए क्या?

हम काले हैं तो क्या हुआ दिलवाले हैं
हम तेरे, तेरे, तेरे, चाहने वाले हैं
हम काले हैं तो…

ये गोरे गालाँ तन्दाना
ये रेशमी बालाँ तन्दाना
ये सोला सालाँ तन्दाना
हाय तेरे ख़यालाँ तन्दाना
हम तेरे तेरे तेरे चाहने…

तुम किधर को जाताईं तन्दाना
क्यूँ पास न आताईं तन्दाना
जाँ मार ये बाताँ तन्दाना
दिल तोड़ ये घाताँ तन्दाना
हम तेरे तेरे तेरे चाहने…

आँखां नारंगी की फाँकाँ
बाताँ ज्यूँ सारंगी
चालाँ जैसे मस्त शराबी
हालत रंग-बिरंगी

हम माना ग़रीब हैं तन्दाना
सूरत से अजीब हैं तन्दाना
पर फिर भी नसीब हैं तन्दाना
के तेरे खरीब हैं तन्दाना
हम तेरे तेरे तेरे चाहने…

क्या जी, टांग हिला रही है क्या?
पीछे नहीं हटूँगा मैं
हिला को रख डालूँगा मैं
अल्लाह अल्लाह..
अल्लाह मेरी मदद कर अल्लाह
मैं पोट्टी को छोड़ूंगा नहीं मैं अल्लाह
अल्लाह अल्लाह अल्लाह…

Leave a Comment

Your email address will not be published.