Mohabbat Mein Aise Kadam Lyrics-Lata Mangeshkar, Anarkali

Title : मुहब्बत में ऐसे क़दम
Movie/Album- अनारकली -1953
Music By- सी.रामचंद्र
Lyrics By- राजिंदर कृष्ण
Singer(s)- लता मंगेशकर

मेरी तकदीर मुझे आज कहाँ लायी हैं
शीशा शीशा जहाँ मेरा ही तमाशाई हैं

मुझे इल्ज़ाम न देना मेरी बेहोशी का
मेरी मजबूर मुहब्बत की ये रुसवाई है
मुहब्बत में ऐसे क़दम डगमगाये
ज़माना ये समझा के हम पी के आये

जिसे काम हो रात दिन आँसूओं से
उसे हुक़्म ये है हंसे और हंसाये
ज़माना ये समझा…

किसी की मुहब्बत में मजबूर होकर
हम उन तक तो पहुँचे, वो हम तक न आये
ज़माना ये समझा…

वो जिनके लिये ज़िंदगानी लुटा दी
ये बैठे हुए हैं मेरा दिल चुराये
ज़माना ये समझा…

छुपोगे कहाँ तक नज़र तो मिलाओ
तुम्हारी बला से मेरी जान जाये
ज़माना ये समझा…

See also  Subhanallah Haseen Chehra Lyrics-Md.Rafi, Kashmir Ki Kali

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *