Title : नाचे मन मोरा मगन
Movie/Album/Film: मेरी सूरत तेरी आँखें -1963
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics : शैलेन्द्र
Singer(s): मो.रफ़ी

नाचे मन मोरा मगन तिक-दा-धीगी-धीगी
बदरा घिर आए, रुत है भीगी-भीगी
नाचे मन-मोरा मगन…

कुहू के कोयलिया, कहीं दूर पपीहा पुकारे
झूला झूलें सखियाँ, कि घर आजा बालम हमारे
घिर आए, बदरा घिर आए, रुत है भीगी-भीगी
नाचे मन-मोरा मगन…

यहीं रुक जाए, ये शाम आज ढलने ना पाए
टूटे ना ये सपना, कोई अब मुझे ना जगाए
घिर आए, बदरा घिर आए, रुत है भीगी-भीगी
नाचे मन-मोरा मगन…

छुप-छुप ऐसे में, कोई मधुर गीत गाए
गीतों के बहाने, छुपी बात होंठों पे आए
घिर आए, बदरा घिर आए, रुत है भीगी-भीगी
नाचे मन-मोरा मगन…

See also  Aa Dil Kya Mehfil Lyrics-Kishore Kumar, Hum Kisise Kam Naheen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *